मणिपुर जैसी रोज हो रही घटनाएं: पहले यूपी तो अब झारखंड में मामला आया सामने!

महिलाओं पर हिंसा के मामले लगातार बढ़ रहे है, केन्द्र व राज्य सरकारें प्रभावी कदम नहीं उठा रही है।
मणिपुर जैसी रोज हो रही घटनाएं: पहले यूपी तो अब झारखंड में मामला आया सामने!

दिल्ली। मणिपुर की घटना ने पूरे देश के लोगों को झकझोर कर रख दिया था। इस मामले में लोगों ने जमकर गुस्सा दिखाया। जिसके बाद प्रधानमंत्री को भी चुप्पी तोड़नी पड़ी। हाल ही में उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले और झारखंड के गिरिडीह में दो मिलते जुलते मामले सामने आए हैं। दोनों में पुलिस ने कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

जानिए क्या है पूरा मामला?

झारखंड के गिरिहीड में महिला के साथ दरिंदगी की गई। बदमाशों ने पहले तो महिला को जमकर पीटा फिर कपड़े फाड़कर पेड़ से बांध दिया। पीड़ित महिला पूरी रात पेड़ से बंधी रही। मामला गिरिडीह के सरिया थानाक्षेत्र का है। सरिया पुलिस ने महिला को बंधन से मुक्त कराकर अस्पताल में भर्ती कराया। बताया जा रहा है कि यह पूरी वारदात गत बुधवार रात करीब 11 बजे की है। महिला ने पुलिस को कुछ आरोपियों के नाम बताए हैं। पुलिस उनकी तलाश में लगी है। पीड़िता ने बताया कि बुधवार रात तकरीबन 10:30 बजे एक व्यक्ति ने उसे फोन किया और घर से बाहर आने को कहा। महिला बाहर आई तो देखा 2 लोग खड़े हैं। दोनों युवकों ने महिला को बाइक में बिठाया और करीब 1 किमी दूर ले गए। महिला का आरोप है कि दोनों ने उसे पीटा। उसके कपड़े फाड़ दिए। इसके बाद एक पेड़ से बांध दिया। महिला अर्धनग्न हालत में पूरी रात उस पेड़ से बंधी रही। सुबह ग्रामीणों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला को छुड़ाया और अपने साथ ले गई। महिला काफी दहशत में है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस मामले में पुलिस मुख्यालय के डीएसपी संजय राणा ने द मूकनायक प्रतिनिधि को बताया, "प्रेम-प्रसंग के कारण महिला के साथ मारपीट की गई। इसके बाद उसके कपड़े फाड़ दिए गए। पेड़ में बांधकर छोड़ दिया गया था। पुलिस ने चार आरोपियों विकास सोनार, श्रवण कुमार, रेखा देवी व मुन्नी देवी को गिरफ्तार कर लिया है।"

जानिए क्या है दूसरा मामला?

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में भी मणिपुर जैसी घटना सामने आई है, जिसमें युवती से रेप के बाद एक किशोरी को निर्वस्त्र करके मारपीट का आरोप लगा है। इतना ही नहीं, आरोपियों ने इस घटनाक्रम का वीडियो बनाया, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जानकारी के मुताबिक, मामला मेरठ के किठौर थाना क्षेत्र का है। किशोरी के पिता द्वारा पुलिस को दी गई तहरीर में कहा है कि इलाके के एक युवक ने उसकी नाबालिग बेटी को अपने झांसे में फंसा लिया। उसे निकाह का वादा करके दुष्कर्म किया। आरोप है कि हाल ही में आरोपी ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर किशोरी को पकड़ लिया। आरोपी किशोरी को अपने साथ एक खेत में ले गए। इसके बाद उससे दुष्कर्म किया। आरोप है कि सभी आरोपियों ने किशोरी को निर्वस्त्र करके उसके साथ मारपीट की। उसे पीटते हुए खेत से सड़क तक लेकर आए। सोशल मीडिया पर आए वीडियो में किशोरी गिड़गिड़ाती रही। भैया… भैया… कहते हुए अपने कपड़े मांगती रही, लेकिन आरोपियों का दिल नहीं पसीजा। किसी तरह से किशोरी अपने घर पहुंची।

इस प्रकरण के बारे में मेरठ के एसपी देहात ने द मूकनायक प्रतिनिधि को बताया, "थाना किठौर पुलिस ने तहरीर के आधार पर चार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है। अब किशोरी को कोर्ट में पेश करते हुए बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया की जाएगी। एसपी ग्रामीण ने बताया कि आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी।"

मणिपुर घटना की होगी सीबीआई जांच

मणिपुर में दो महिलाओं के साथ दरिंदगी से देश को शर्मसार करने वाले मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है। केंद्र सरकार ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में यह जानकारी दी। साथ ही केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर मामले की सुनवाई मणिपुर से बाहर कराने का आग्रह किया है। इससे पहले गृह मंत्रालय ने मणिपुर वायरल वीडियो की जांच सीबीआई को सौंपने की जानकारी दी थी।

यह भी पढ़ें-
मणिपुर जैसी रोज हो रही घटनाएं: पहले यूपी तो अब झारखंड में मामला आया सामने!
'सैप्टिक टेंक की सफाई में मानव श्रम के उपयोग को सख्ती से करें प्रतिबंधित'
मणिपुर जैसी रोज हो रही घटनाएं: पहले यूपी तो अब झारखंड में मामला आया सामने!
मध्य प्रदेश: राज्य में फैला आई फ्लू, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की एडवाइजरी
मणिपुर जैसी रोज हो रही घटनाएं: पहले यूपी तो अब झारखंड में मामला आया सामने!
उत्तर प्रदेश: लखनऊ केजीएमयू में एक बार भी नहीं बना दलित-आदिवासी कुलपति!

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com