आज दिन भर की खबरें: झारखंड की नौ लड़कियां मानव तस्करी के चंगुल से ऐसे हुईं मुक्त

आज दिन भर की खबरें: झारखंड की नौ लड़कियां मानव तस्करी के चंगुल से ऐसे हुईं मुक्त

नई दिल्ली। भारत में पिछले 12 घन्टे में महिला शोषण के कई मामले सामने आए हैं। इन घटनाओं में झारखंड से तस्करी करके ले जाई जा रही नौ युवतियों की घटना बड़ी है। इसके अतिरिक्त मुम्बई और उत्तर प्रदेश में घटनाएं प्रमुख हैं।

आइये संक्षेप में जाने घटनाओं को?

झारखंड के साहिबगंज जिले से दिल्ली ले जाई गईं नौ लड़कियों को राष्ट्रीय राजधानी में मुक्त करा लिया गया। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि बचाई गईं लड़कियों को ट्रेन से वापस उनके गृह राज्य लाया जा रहा है। अधिकारी ने बताया कि साहिबगंज जिला प्रशासन को मामले की सूचना दे दी गई और उन्होंने दिल्ली से लड़कियों को लाने के लिए जिला बाल सुरक्षा अधिकारी पूनम कुमारी के नेतृत्व में एक दल का गठन किया है।एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, लड़कियों को दिल्ली पुलिस की मदद से हरियाणा व उत्तर प्रदेश से सटे दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में मुक्त कराया गया। कुमारी ने बताया कि सभी बचाई गईं लड़कियां रविवार को साहिबगंज के लिए ट्रेन से रवाना हुईं।

कुमारी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया, ''सभी बचाई गईं लड़कियों को झारखंड सरकार की विभिन्न योजनाओं से जोड़कर उनपर निरतंर नजर रखी जाएगी ताकि वह फिर से मानव तस्करी का शिकार न हो पाएं। दिल्ली से बचाई गईं लड़कियों को मानव तस्करों द्वारा वहां ले जाया गया था। झारखंड में इस तरह के तस्कर बहुत सक्रिय हैं, जो युवतियों को दिल्ली में बेहतर जीवन देने का वादा कर उन्हें बहला-फुसलाकर वहां ले जाते हैं और नौकरी का झांसा देकर उन्हें विभिन्न घरों में बेच देते हैं। तस्करों को इस एवज में भारी-भरकम राशि मिलती है लेकिन लड़कियों की जिंदगी तबाह हो जाती है।''

दो अलग-अलग घटनाओं में नाबालिगों का यौन शोषण

नवी मुंबई में दो अलग-अलग घटनाओं में एक नाबालिग लड़की और लड़के के खिलाफ यौन अपराधों के खुलासों के बाद पुलिस ने एक महिला सहित तीन लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किये हैं।

पहली घटना, एक व्यक्ति ने जनवरी 2021 में तुर्भे की 14 वर्षीय लड़की से सोशल मीडिया पर दोस्ती की। इसके बाद उसने कामोठे में अपने घर पर उसके साथ बार-बार बलात्कार किया। लड़की मई में गर्भवती हो गई और अपने परिवार के सदस्यों की मदद से आखिरकार उसने आरोपी और उसकी मां के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जो अपने बेटे की गतिविधियों से अवगत थी। एक अधिकारी ने कहा कि नाबालिग लड़की की शिकायत के बाद पुलिस ने उस व्यक्ति और उसकी मां पर अपराध को बढ़ावा देने का मामला दर्ज किया है और आगे की जांच जारी है।

दूसरी घटना में 26 वर्षीय ऑटोरिक्शा चालक को रविवार शाम वाशी में एक मॉल के शौचालय में 15 वर्षीय लड़के का कथित तौर पर यौन उत्पीड़न करने के बाद गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने कहा कि लड़का अपने दोस्तों के साथ मॉल गया था जहां ऑटोरिक्शा चालक ने उसे ग्राउंड फ्लोर के टॉयलेट ब्लॉक में बुलाया और उसका यौन उत्पीड़न किया। लड़का किसी तरह वहां से भागने में कामयाब रहा और अपने परिवार को सूचित किया, जिन्होंने वाशी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस की टीमें कुछ घंटों बाद आरोपियों का पता लगाने और उन्हें गिरफ्तार करने के लिए कार्रवाई में जुट गईं। दोनों नाबालिगों से जुड़े गंभीर अपराधों में नवी मुंबई पुलिस ने पोक्‍सो अधिनियम और अन्य कानूनों के कड़े प्रावधान लागू किए हैं और आगे की जांच चल रही है।

नाबालिग के साथ बाबा ने किया दुष्कर्म

यूपी में जालौन जिले के माधौगढ़ कोतवाली क्षेत्र में सोमवार को एक बच्ची के साथ दुष्कर्म की वारदात का मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित परिवार का आरोप है कि रविवार की रात को बाबा के साथ सो रही बच्ची को युवक उठा ले गया। गांव के बाहर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने पीड़ित परिवार से तहरीर लेकर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। जानकारी के मुताबिक माधौगढ़ कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रहने वाले पीड़ित परिवार ने सोमवार को कोतवाली में तहरीर दी है। उन्होंने बताया कि छह साल की बच्ची रविवार की रात को घर के बाहर अपने बाबा के साथ सो रही थी। इसी दौरान हरेंद्र सिंह मौका पाकर उनकी बेटी को उठाकर गांव के बाहर ले जाकर दुष्कर्म किया। इधर बाबा ने अपने साथ नातिन को न देख रात में ही खोजबीन करने लगा। लहूलुहान हालत में पहुंची बच्ची ने बाबा को रोते हुए सारी बात बतायी।

रात अधिक होने की वजह से सुबह बाबा और माता-पिता ने कोतवाली में पहुंच कर गांव के ही आरोपी हरेन्द्र सिंह के खिलाफ तहरीर दी है। इस पूरे प्रकरण में अपर पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच की जा रही है। जल्द आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें-
आज दिन भर की खबरें: झारखंड की नौ लड़कियां मानव तस्करी के चंगुल से ऐसे हुईं मुक्त
मणिपुर हिंसा ग्राउंड रिपोर्ट: चुराचांदपुर में प्रवेश के लिए सिर्फ मुस्लिम ड्राइवर ही क्यों?
आज दिन भर की खबरें: झारखंड की नौ लड़कियां मानव तस्करी के चंगुल से ऐसे हुईं मुक्त
मणिपुर हिंसा ग्राउंड रिपोर्ट: रिलीफ कैंपों के कम स्पेस में करवटों में दिन गुजारती गर्भवती महिलाएं, नवजातों की जिंदगियां दांव पर
आज दिन भर की खबरें: झारखंड की नौ लड़कियां मानव तस्करी के चंगुल से ऐसे हुईं मुक्त
मणिपुर हिंसा ग्राउंड रिपोर्ट: चश्मदीद का आरोप, BJP कार्यकर्ता ने घर की मेढ़ पर कुकी व्यक्ति की काटकर लगाई थी गर्दन!

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com