भागवत कथा वायरल वीडियो प्रकरण: कैमरे को देख इशारा करने वाली नवविवाहिता का नहीं किया गया मुंडन!

भागवत कथा वायरल वीडियो प्रकरण: कैमरे को देख इशारा करने वाली नवविवाहिता का नहीं किया गया मुंडन!

उत्तर प्रदेश। सोशल मीडिया पर एक नवविवाहिता का वीडियो पिछले एक सप्ताह से वायरल है। बताया जा रहा था कि कहीं भागवत कथा के दौरान कैमरे की तरफ देख इशारा करने वाली एक नवविवाहिता का उसके परिजनों ने दंड स्वरूप मुंडन करवा दिया। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद से लोगों में इसको लेकर बहुत उत्सुकता थी और महिला अधिकारों की पैरवी करने वाले लोगों में भी आक्रोश था कि किस तरह केवल मजाक में आंखों के इशारों को लेकर किसी महिला के बाल मुंडवा दिए जा सकते हैं? 

वायरल वीडियो कहाँ का था, इस बात की पुष्टि नहीं हो पा रही थी। स्विगी का बैग लेकर वायरल हुई महिला की तस्वीर की तरह ही द मूकनायक के प्रतिनिधि ने इस वायरल वीडियो की जगह को खोज निकाला। जगह की जानकारी होने के बाद द मूकनायक की सूचना पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई।

जनिये क्या है पूरा मामला?

दरअसल सोशल मीडिया पर लगातार एक नवविवाहिता का वीडियो वायरल था। यह महिला भागवत कथा के दौरान कैमरा देखकर आंखों से इशारे कर रही थी। वहीं एक अन्य वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है जिसमें महिला को गंजा किया जा रहा है। महिला के दूसरे वीडियो में यह दावा किया जा रहा है कि भागवत कथा में कैमरा देखकर इशारा करने के कारण महिला को गंजा किया गया है।

इस वायरल वीडियो की पड़ताल करते हुए द मूकनायक के प्रतिनिधि ने सभी मीडिया प्लेटफार्म पर इससे जुड़े कीवर्ड (अक्षरों) को डालकर ओरिजिनल वीडियो सोर्स तक पहुंचा। यह वीडियो "Yaduvanshi Official Video" नामक "Youtube" पेज पर डाला गया था। पूरा वीडियो देखने पर कार्यक्रम में टेंट हाउस द्वारा लगाए गए कूलर पर 'मां दुर्गा टेंट हाउस" के साथ ही नम्बर दिया हुआ था। 

दिए गए नम्बर से सम्पर्क करने पर पता चला कि यह वीडियो उत्तर प्रदेश के इटावा जिले का है। टेंट मालिक ने द मूकनायक प्रतिनिधि से बात करते हुए बताया, "मैं पंडित धर्मेंद्र शास्त्री के कार्यक्रम में टेंट लगाने का काम करता हूँ। पिछले महीने मैंने नगला हीरालाल और नगला सेवा राम में धम्रेंद्र शास्त्री के कार्यक्रम के दौरान टेंट लगाया था।" सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर और अधिक सर्च करने पर इस वीडियो के नगला हीरालाल गांव के होने की पुष्टि हुई।

सोशल मीडिया पर वायरल महिला के वीडियो को लेकर यह दावा किया जा रहा है कि महिला द्वारा भागवत कथा में कैमरा देखकर इशारे करने पर उसे गंजा कर दिया गया।

जांच में जुटी पुलिस

इस मामले में जब द मूकनायक के प्रतिनिधि के जरिये इटावा पुलिस को जानकारी हुई तो पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया। पुलिस पहले तो नगला हीरालाल नामक जगह इटावा में न होने की बात करती रही। लेकिन द मूकनायक के प्रतिनिधि द्वारा नगला हीरालाल स्थान से जुड़े कई तथ्य पुनः उपलब्ध कराने पर पुलिस गम्भीरता से जांच में जुट गई। इटावा पुलिस की जांच के अनुसार दोनों महिलाएं अलग हैं। जिस महिला का वीडियो वायरल हो रहा है, वह सकुशल अपने घर पर है।

हालांकि इस मामले में पड़ताल अभी जारी है, द मूकनायक इस घटना की तस्दीक नहीं करता है।

यह भी पढ़ें-
भागवत कथा वायरल वीडियो प्रकरण: कैमरे को देख इशारा करने वाली नवविवाहिता का नहीं किया गया मुंडन!
हरियाणा: कथित उच्च जाति के घर में चप्पल पहनकर जाने पर दलित बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या
भागवत कथा वायरल वीडियो प्रकरण: कैमरे को देख इशारा करने वाली नवविवाहिता का नहीं किया गया मुंडन!
दिल्ली हाईकोर्ट का यह आदेश बढ़ाएगा कामकाजी महिलाओं का हौसला, जानिए क्या कहा कोर्ट ने...?
भागवत कथा वायरल वीडियो प्रकरण: कैमरे को देख इशारा करने वाली नवविवाहिता का नहीं किया गया मुंडन!
उत्तर प्रदेश: प्रेमी के लिए युवक ने करा लिया लिंग परिवर्तन, आजीवन साथ निभाने के वादे से मुकर साथी हुआ फरार

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com