बदलावः 14 ट्रांसजेंडर कर्मचारियों के नए बैच को टाटा स्टील में मिलेगा कौशल प्रशिक्षण-नौकरी

विश्व ट्रांसजेंडर दिवस के मौके पर झारखंड के बोकारो स्थित टाटा स्टील ने एक बड़ा आयोजन किया। इस दौरान कंपनी द्वारा जारी आधिकारिक बयान में कहा गया कि कंपनी की कुल ट्रांसजेंडर कार्यबल अब 120 है।
झारखंड में 14 ट्रांसजेंडरों को बांटे गए नियुक्ति पत्र.
झारखंड में 14 ट्रांसजेंडरों को बांटे गए नियुक्ति पत्र.

दिल्ली। झारखंड के बोकारो स्थित टाटा स्टील कंपनी ने अन्तरराष्ट्रीय ट्रांसजेंडर दिवस के अवसर पर ट्रांसजेंडरों को नौकरी का अनमोल तोहफा दिया है। रविवार को आयोजित एक समारोह के दौरान टाटा स्टील के वेस्ट बोकारो डिवीजन ने हेवी अर्थ मूविंग मशीनरी ऑपरेटर प्रशिक्षुओं के रूप में 14 ट्रांसजेंडर कर्मचारियों के एक नए बैच को शामिल किया। रांची में भी ट्रांसजेंडर को लेकर नए स्टार्टअप की शुरुआत की गई। वहीं, यूपी के प्रयागराज में जागरूकता रैली आयोजित की गई।

दरअसल, विश्व ट्रांसजेंडर दिवस के मौके पर झारखंड के बोकारों में मौजूद टाटा स्टील ने एक बड़ा आयोजन किया था। इस दौरान कंपनी के द्वारा जारी किये गए आधिकारिक बयान में कहा गया कि कंपनी की कुल ट्रांसजेंडर कार्यबल अब 120 है। टाटा स्टील लिंग पहचान, यौन रुझान या किसी अन्य कारक की परवाह किए बिना सभी कर्मचारियों के लिए एक सम्मानजनक और सहायक वातावरण बनाने पर ध्यान केंद्रित करती है। वेस्ट बोकारो डिवीजन के महाप्रबंधक अनुराग दीक्षित ने कहा, "हमें विश्वास है कि हमारे नए प्रशिक्षु हमारी टीम में बहुमूल्य योगदान देंगे और हम उन्हें सफल होने के लिए आवश्यक समर्थन और अवसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।"

ट्रांसजेंडर दिवस पर स्टार्टअप की शुरुआत

झारखंड के रांची में विश्व ट्रांसजेंडर दिवस पर दिव्यम ड्रीम फाउंडेशन संस्था की ओर से ट्रांसजेंडर को मुख्य धारा में जोड़ने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें 25 ट्रांसजेंडर ने साक्षात्कार दिया, जिसमें तीन स्टार्टअप ग्रुप का चुनाव हुआ। ग्रुप एक मेकअप आर्टिस्ट में जन्नम, मायरा, गुलनाज और छोटू शामिल थे। ग्रुप दो कैटरिंग में राज, कनिका, लियोनी और माही के अलावा आर्ट और फैशन के लिए माही मोनी और तारा की टीम का चयन हुआ।

प्रयागराज में किन्नर बोर्ड ने निकाली यात्रा.
प्रयागराज में किन्नर बोर्ड ने निकाली यात्रा.

यूपी के प्रयागराज में किन्नर बोर्ड ने निकाली जागरूकता रैली

यूपी में भी अंतराष्ट्रीय ट्रांसजेंडर दिवस के मौके पर प्रयागराज में किन्नरों ने एक जागरूकता रैली निकाली। यह रैली किन्नर अखाड़े की महामंडलेश्वर और यूपी किन्नर कल्याण बोर्ड की वरिष्ठ सदस्य स्वामी कौशल्यानंद गिरि उर्फ टीना मां की अगुवाई में बड़ी संख्या में किन्नरों के साथ पोस्टर बैनर लेकर निकाली गई। यह जागरूकता रैली बैरहना स्थित महिला पार्क से शुरू हुई।

रैली के दौरान कौशल्यानंद गिरि ने समाज से अपील करते हुए कहा - "किन्नर भी पुरुषों और महिलाओं की तरह ही मां की कोख से जन्म लेते हैं। इसलिए उनका तिरस्कार नहीं बल्कि समाज को उन्हें अपनाना चाहिए, ताकि वह भी सम्मान पूर्वक जीवन जी सकें। किन्नरों को अवसर की जरूरत है किसी के दया की कतई जरूरत नहीं है। अगर किन्नरों को अवसर मिलेगा तो वह भी महिलाओं और पुरुषों की तरह समाज में अपना योगदान दे सकेंगे।"

स्वामी कौशल्यानंद गिरि ने आगे कहा - "ईश्वर ने जरूर हमें शरीर से किन्नर बनाया है, लेकिन हमारा मस्तिष्क भी महिलाओं और पुरुषों की तरह ही विकसित होता है। किन्नर समाज लैंगिक असमानता से पीड़ित समाज है। इनके मौजूदा हालातों में बदलाव की जरूरत है। अगर समाज हमें अवसर प्रदान करता है तो किन्नर भी मुख्यधारा में रहते हुए समाज की उन्नति और प्रगति के लिए कार्य करते रहेंगे। ट्रांसजेंडर बच्चे भी समाज का हिस्सा हैं। इसलिए इन्हें समाज द्वारा अपनाया जाना चाहिए। ट्रांसजेंडर बच्चों के विकास के लिए समाज को भी योगदान देना चाहिए।"

झारखंड में 14 ट्रांसजेंडरों को बांटे गए नियुक्ति पत्र.
यूपी: गन्ने के खेत में मिला दलित युवक का शव, हत्या का आरोप, पुलिस नहीं दर्ज कर रही एफआईआर !

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com