पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के घर सहित, 30 ठिकानों पर सीबीआई की रेड

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक
पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के चर्चित पूर्व उप राज्यपाल सत्यपाल मलिक के घर सहित 30 ठिकानों पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने छापा मारा है। यह छापा जम्मू-कश्मीर के पनबिजली परियोजना को लेकर मारा गया है। गौरतलब है कि सत्यपाल मलिक के कार्यकाल के दौरान ही मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने का काम किया था। सत्यपाल मलिक बिहार, ओडिशा, गोवा और मेघालय के राज्यपाल रहे चुके हैं।

क्या है हाइड्रो प्रोजेक्ट?

पत्रिका में प्रकाशित खबर के अनुसार जम्मू और कश्मीर के किश्तवाड़ तहसील में चिनाब नदी पर पनबिजली परियोजना तैयार की गई है। इसकी आधारशिला 3 फरवरी 2019 को रखी गई थी। चिनाब नदी पर विकसित की जा रही बिजली की यह परियोजना 624 मेगावॉट बिजली आपूर्ति करेगी। भारत इसे सिंधु समझौते के अनुसार बना रहा है। इस परियोजना को टोल टैक्स और राज्य सेवा कर में छूट दी गई है। इसके साथ ही 10 साल तक जल उपयोग शुल्क पर भी छूट है। इस परियोजना की लागत 4287.59 करोड़ रुपए है। इसमें जम्मू कश्मीर 49 फीसदी साझेदार है। इस परियोजना को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली आर्थिक मामलों पर कैबिनेट समिति ने मंजूरी दी थी।

बीमा घोटाले में भी पड़ चुका है सत्यपाल मलिक के घर छापा

जम्मू और कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के दिल्ली स्थित घर पर हाइड्रो पॉवर प्रोजेक्ट मामले में छापा मारा है। इससे पहले बीमा घोटाले मामले में सीबीआई सत्यपाल मालिक के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी है।

मलिक को ऑफर हुई थी 300 करोड़ की रिश्वत

सत्यपाल मलिक ने 2019 में किश्तवाड़ हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के लिए 2,200 करोड़ रुपए के काम का ठेका देने के मामले में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था। वह 23 अगस्त, 2018 से 30 अक्तूबर 2019 तक जम्मू कश्मीर के राज्यपाल थे। उन्होंने आरोप लगाया था कि परियोजना से संबंधित दो फाइलों की मंजूरी के लिए 300 करोड़ रुपए रिश्वत की पेशकश हुई थी।

एक्स पर दी जानकारी

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा कि पिछले 3-4 दिनों से मैं बीमार हूं और अस्पताल में भर्ती हूं। इसके वावजूद मेरे मकान में तानाशाह द्वारा सरकारी एजेंसियों से छापे डलवाएं जा रहें है। मेरे ड्राइवर, मेरे साहयक के ऊपर भी छापे मारकर उनको बेवजह परेशान किया जा रहा है। में किसान का बेटा हूं, इन छापों से घबराऊंगा नहीं। मैं किसानों के साथ हूं।

पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक
क्या है वह विधेयक जिसके तहत कर्नाटक सरकार मंदिरों से वसूलेगी 10 प्रतिशत टैक्स?
पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक
किसानों ने कहा - “आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश कर रही है सरकार”
पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक
नई दिल्ली: EVM के खिलाफ मुखर हुआ विरोध, कांग्रेस पार्टी के कई नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com