फॉलोअप: मध्य प्रदेश मानवाधिकार आयोग ने लिया संज्ञान, मंत्री पुत्र के खिलाफ होगी कार्यवाही

फॉलोअप: मध्य प्रदेश मानवाधिकार आयोग ने लिया संज्ञान, मंत्री पुत्र के खिलाफ होगी कार्यवाही

स्वास्थ्य राज्यमंत्री के बेटे ने शनिवार रात शहर के त्रिलंगा के एक रेस्त्रां संचालक दंपती के साथ मारपीट की थी, वहीं थाने में दोस्तों के साथ हंगामा किया था।

भोपाल: मध्य प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य राज्यमंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल के बेटे के मामले में राज्य मानवाधिकार आयोग ने स्वतः संज्ञान लेकर पुलिस कमिश्नर से जवाब मांगा है। मंत्री पर पार्क की जमीन कब्जाने व बेटे पर एक पत्रकार व रेस्टोरेंट संचालक दम्पती की पिटाई करने का आरोप है।

भोपाल शहर के त्रिलंगा के एक रेस्त्रां संचालक दंपती के साथ मारपीट करने और थाने में हंगामा कर उत्पात मचाने का मामला सामने आया था। मंत्री बेटे अभिज्ञान ने एक पत्रकार को भी पीटा था। पुलिस ने देर रात मंत्री पुत्र पर गाली-गलौज, मारपीट, जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज कर लिया था।

वहीं, मंत्री पुत्र के दोस्त की शिकायत पर रेस्त्रां संचालक दंपती और कुक के खिलाफ साधारण मारपीट का मुकदमा दर्ज किया गया था। दो घंटे बाद ही 4 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया। मामले में संज्ञान लेकर मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने पुलिस कमिश्नर, भोपाल से मामले की जांच कराकर की गई कार्यवाही के संबंध में 15 दिन में जवाब मांगा है। 

आयोग ने पत्र लिख कर 8 बिंदुओं पर जांच प्रतिवेदन मांगा है- 

शहर की गुलमोहर काॅलोनी के जी-3 सेक्टर के सार्वजनिक पार्क पर मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल का कब्जा है। यह खबर जब दैनिक समाचार पत्रों में प्रकाशित हुई। आयोग ने इस मामले में भी नगर निगम कमिश्नर से जवाब मांग लिया। इन दोनों ही मामलों में सम्बंधित विभागों को 15 दिन में आयोग के समक्ष प्रतिवेदन प्रस्तुत करना है। 

  • थाना शाहपुरा में घटना के संबंध में पंजीबद्ध आपराधिक मामलों और उनके अंतर्गत आहत/पीड़ित बताये गये व्यक्तियों के डाक्टरी परीक्षण उपरांत प्राप्त एमएलसी रिपोर्ट के आधार पर की गई कार्यवाही ।

  • थाना शाहपुरा के दिनांक 30 मार्च 2024 के रात्रि 8.00 बजे के पश्चात् से 31 मार्च के प्रातः 5.00 बजे तक के सीसीटीवी फुटेज की सम्पूर्ण जाँच कराते हुए उसके आधार पर प्रकट परिस्थितियों के संबंध में स्पष्ट प्रतिवेदन और सीसीटीवी फुटेज की नियमानुसार प्राप्त की गई सीडी की प्रति भी विवरण सहित मांगी है। 

  • थाना शाहपुरा के जिन 04 पुलिस कर्मियों को निलंबित किया गया है उनके संबंध में हुई कार्यवाही निलंबन के आधार और प्रस्तावित कार्यवाही के संबंध में प्रतिवेदन मांगा है। 

  • ऐसी घटना में सम्मिलित बताये गये व्यक्तियों की करायी गई डाक्टरी परीक्षण के संदर्भ में उनके शराब के सेवन की स्थिति के संबंध में प्रेतिवेदन मांगा है। 

  • आयोग ने नगर निगम कमिश्नर भोपाल से गुलमोहर कालोनी के जी-3 सेक्टर के पार्क में अतिक्रमण और उसके संबंध में कार्यवाही का प्रतिवेदन मांगा है।

  • पार्क का उपयोग किसी भी प्रकार के वाहनों की पार्किंग के लिए न हो इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए प्रतिवेदन ।

  • उक्त पार्क क्षेत्र के निवासियों के लिए जिन सुविधाओं के उपयोग हेतु बनाया गया है उसी अनुरूप उसके अलावा अन्य किसी कार्य के लिए उपयोग न हो इस संबंध में की गई कार्यवाही।

  • उक्त पार्क के क्षेत्र के निवासियों द्वारा शांति पूर्वक बिना किसी बाधा के अनुमत गतिविधियों के लिए ही उपयोग किया जावे इस सबंध में भी स्थिति सुनिश्चित करते हुए प्रतिवेदन आयोग ने मांगा है।

क्या है मामला

राजधानी में शनिवार देर शाम शाहपुरा थाना क्षेत्र के त्रिलंगा में प्रदेश के स्वास्थ्य राज्य मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल के बेटा अभिज्ञान पटेल और दोस्तों का एक रेस्टारेंट संचालक महिला और उसके पति के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। आरोप है कि मंत्री के बेटे और समर्थकों ने रेस्टोरेंट के संचालक और एक महिला के साथ मारपीट की है। रेस्टोरेंट संचालक और महिला ने मामला दर्ज कराने के लिए थाने पहुंचे। दोनों पक्ष ने एक दूसरे पर मारपीट करने का आरोप लगाया।  

जानकारी मिलने के बाद मंत्री नरेंद्र शिवाजी पटेल और उनके समर्थक भी शाहपुरा थाने पहुंचे गए। इधर, मंत्री के बेटे के साथ हुई मारपीट की सूचना जैसे ही पुलिस के आला अधिकारियों को मिली तो पुलिस उपायुक्त, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त और अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सहित आधा दर्जन पुलिस के अधिकारी शाहपुरा थाने पहुंच गए थे। आरोप है कि मंत्री ने अपने रसूख का इस्तेमाल कर चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करा दिया। वहीं बेटे के खिलाफ मामूली धाराओं में मुकद्मा दर्ज करने के लिए पुलिसकर्मियों पर दबाव बनाया।

फॉलोअप: मध्य प्रदेश मानवाधिकार आयोग ने लिया संज्ञान, मंत्री पुत्र के खिलाफ होगी कार्यवाही
एमपी: बीजेपी मंत्री पुत्र ने होटल संचालक दंपती व पत्रकार को पीटा, पुलिस ने की फौरी कार्रवाई !

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com