राजस्थान: बलात्कार की खबर लिखी तो दलित पत्रकार पर जानलेवा हमला, मामला दर्ज

पत्रकार हीराराम मेघवाल को चार अज्ञात आरोपियों ने जान से मारने की नियत से हमला कर दिया, गंभीर रूप से घायल हुए हीराराम को मृत समझ कर आरोपी मौके से भाग निकले।
अस्पताल में भर्ती हीराराम मेघवाल.
अस्पताल में भर्ती हीराराम मेघवाल.

जयपुर। जैसलमेर जिले के भणियाणा थाना क्षेत्र के उचपदरा गांव में एक दलित पत्रकार को वंचितों की खबर लिखना महंगा पढ़ गया। पत्रकार ने एक बलात्कार की खबर को लिखा था, जिससे नाराज मनबढ़ों ने उनपर जानलेवा हमला कर दिया। आरोपियों ने इतनी बेरहमी से पीटा कि उनके दोनों पैर और एक हाथ में फ्रैक्चर हुआ है।

दरअसल, 12 मई शाम को पत्रकार हीराराम मेघवाल को चार अज्ञात आरोपियों ने जान से मारने की नियत से हमला कर दिया, गंभीर रूप से घायल हुए हीराराम को मृत समझ कर आरोपी मौके से भाग निकले। उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों में गंभीर चोटें आई है। हाथ, पैर एवं सिर में फ्रैक्चर हो गये हैं। भणियाणा अस्तपाल में प्राथमिक उपचार कर उन्हें जोधपुर रेफर किया गया है, जहां पर वो एमडीएम अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती है।

द मूकनायक से हीराराम ने बताया कि पिछले दिनों एक नाबालिग के साथ बलात्कार की जुड़ी घटना की कवरेज के बाद पुलिस ने हरिसिंह नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया था, तब से लगातार धमकियां मिल रही थीं। गत रविवार को कुछ लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया।

कलेक्टर कार्यालय में ज्ञापन सौंपते पत्रकार संगठन सदस्य.
कलेक्टर कार्यालय में ज्ञापन सौंपते पत्रकार संगठन सदस्य.

पत्रकार संगठनों ने की कार्रवाई की मांग

स्थानीय पत्रकार संगठनों ने सोमवार को मुख्यमंत्री, पुलिस महानिदेशक के नाम का ज्ञापन कलेक्टर, एसपी को सौंपकर जानलेवा हमले के सभी हमलावरों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ फलोदी के बैनर तले फलोदी के सदस्य कलेक्टर कार्यालय पहुँचे। यहां उन्होंने पत्रकार पर हुए हमले की निंदा करते हुए शख्त कार्यवाही करने की मांग की है। एसोसिएशन के सदस्यों ने कहा- "आरोपियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार करें ताकि इस क्षेत्र में पत्रकार स्वतंत्र एवं बैखोफ होकर अपना कार्य संपादित कर सकें।

अस्पताल में भर्ती हीराराम मेघवाल.
राजस्थान: बाल विवाह पर चला न्यायिक हथौड़ा, 23 मई तक उदयपुर में चलेगा विशेष अभियान
अस्पताल में भर्ती हीराराम मेघवाल.
यूपी में दलित युवक की हत्या, राजस्थान में अनुसूचित जाति के व्यक्ति को पेड़ से बांधकर पीटा
अस्पताल में भर्ती हीराराम मेघवाल.
राजस्थान: जयसमंद झील से जुड़े 2300 जनजाति परिवारों पर रोजगार संकट, क्यों पलायन को मजबूर हैं ये मछुआरे?

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com