मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?

टीवी चैनलों पर प्रसारित हुए एग्जिट पोल्स से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गईं हैं। माना जा रहा है कि चुनाव के पूर्व सत्ता विरोधी लहर के बीच प्रदेश के क्षेत्रीय दल कांग्रेस का खेल बिगाड़ सकते हैं।
मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में क्षेत्रीय दल कांग्रेस को सत्ता बनाने से दूर कर सकते है। हाल ही में आए एग्जिट पोल के परिणामों में भाजपा को बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है। वहीं कुछ एजेंसी भाजपा और कांग्रेस में कड़ी टक्कर दिखा रहें हैं। गुरुवार को टीवी चैनलों पर प्रसारित हुए एग्जिट पोल्स से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गईं हैं। माना जा रहा है कि चुनाव के पूर्व सत्ता विरोधी लहर के बीच प्रदेश के क्षेत्रीय दल कांग्रेस का खेल बिगाड़ सकते हैं। हालांकि यह तस्वीर तीन दिसंबर को नतीजों के घोषित होने के बाद ही साफ हो सकेगी।

प्रदेश में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी (जीजीपी), जय आदिवासी संगठन (जयस) इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी (बसपा), समाजवादी पार्टी (सपा), आम आदमी पार्टी (आप) के चुनावी मैदान में उतरने से कांग्रेस को नुकसान हो सकता है। चुनाव के ठीक पहले बसपा और जीजीपी के गठबंधन ने कांग्रेस की मुश्किलों को बढ़ाया है। जिन विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस मजबूत थी वहां बसपा और जीजीपी के गठबंधन ने वोट काटकर नुकसान पहुँचा सकती है।

पिछली बार 2018 के विधानसभा चुनाव में बसपा ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की सीटें शून्य रही थी। लेकिन इस बार विधानसभा 2023 के चुनाव में इन दोनों दलों ने सीट शेयर के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया। सीट-बंटवारे की व्यवस्था के अनुसार, बसपा 178 सीटों पर चुनाव लड़ी जबकि गोंडवाना गणतंत्र ने 52 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे। दरअसल गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का प्रभाव महाकौशल क्षेत्र तक ही सीमित हैं।

इन जिलों की 52 सीटों पर गठबंधन

बसपा और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के गठबंधन में गोंडवाना पार्टी को आदिवासी बहुल इलाकों की 52 सीटें दी गई थी। प्रदेश के सिंगरौली, सीधी, शहडोल, अनूपपुर, उमरिया, कटनी, जबलपुर, सागर, डिंडोरी, मंडला, बालाघाट, सिवनी छिंदवाड़ा, बैतूल, नरसिंहपुर, हरदा, होशंगाबाद, रायसेन, झाबुआ, बड़वानी, अलीराजपुर, इंदौर और खरगोन ज़िलों की सीटों पर गोंडवाना चुनाव लड़ेगी। बता दें यह जिले आदिवासी बाहुल्य हैं जहाँ जीजीपी खासा प्रभाव रखती है। जय आदिवासी संगठन (जयस) ने भी 43 विधानसभाओ में अपने प्रत्याशी उतारे थे। जयस अलीराजपुर, झाबुआ, रतलाम, खंडवा और धार जिले में प्रभाव रखती है।

बहुजन समाज पार्टी एग्जिट पोल के परिणामों से सहमत नहीं हैं। द मूकनायक से बातचीत में बसपा के भोपाल जोन प्रभारी सीएल वंशकार ने बताया कि इस बार बसपा गठबंधन 10 से अधिक सीटें जीत रहा है। उन्होंने दावा किया है की इस बार चुनाव में भाजपा-कांग्रेस को बहुमत नहीं मिलने बाला है। बसपा के सहयोग से ही नई सरकार बनेगी। वहीं कांग्रेस का कहना है कि क्षेत्रीय पार्टियों के चुनाव लड़ने से कांग्रेस को किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता रवि वर्मा राहुल ने कहा कि कांग्रेस पूर्ण बहुमत की सरकार मध्य प्रदेश में बनाएगी। कांग्रेस ने भाजपा के खिलाफ मजबूती से चुनाव लड़ा है।

यह रहे एग्जिट पोल

मध्य प्रदेश में बहुमत का आंकड़ा 116 है। मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को एक चरण में 230 सीटों के लिए मतदान हुआ था। राज्य में कुल 74.62 प्रतिशत मतदान हुआ था। गुरुवार को विभिन्न एजेंसियों के एग्जिट पोल टीवी चैनलों पर प्रसारित किए गए जिनमें भाजपा की बढ़त दिखाई दे रही है।

न्यूज 24-टुडेज चाणक्या के एग्जिट पोल अन्य एजेंसियों के एग्जिट पोल से बिल्कुल अलग हैं। टुडेज चाणक्या के एग्जिट पोल मध्य प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनवा रहे हैं। इसके पोल के मुताबिक, बीजेपी को 151 ( -12), कांग्रेस को 74 ( -12) को सीटें मिल सकती हैं, जबकि अन्य के खाते में 5 ( -4) सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है।

जन की बात के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 100-125 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि बीजेपी को 100-123 सीटें मिलने की बात कही गई है।

पोल स्टार्ट (PolStrat) के एग्जिट पोल के मुताबिक, राज्य में कांग्रेस की सरकार बनती हुई दिख रही है। कमलनाथ की अगुवाई वाली कांग्रेस बहुमत के साथ लौटती दिख रही है। कांग्रेस को यहां पर 230 सीटों में से 111 से लेकर 121 सीटें मिलने का दावा किया गया है, जबकि बीजेपी के खाते में 106 से 116 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है।

पोल ऑफ पोल्स के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्य प्रदेश में कांग्रेस को 111 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि बीजेपी को 116 सीटें मिलती हुई नजर आ रही हैं।

मैट्राइज (Matrize) के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्य प्रदेश में भाजपा को 118-130 सीटें मिलने का अनुमान है, जबकि कांग्रेस को 97-107 सीटें मिल सकती हैं, जबकि अन्य के खाते में 2 सीटें जा रही हैं।

दैनिक भास्कर के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्य प्रदेश में कांग्रेस के सबसे ज्यादा 105-120 सीटें मिलती हुई नजर आ रही हैं, जबकि भाजपा के खाते में 95-115 सीटें जाने का अनुमान है, वहीं 0-15 सीटें अन्य के खाते में जाएंगी।

इंडिया टीवी-CNX के एग्टिज पोल के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी फिर से सत्ता में वापसी करती दिख रही है। इस बार स्पष्ट बहुमत लाती दिख रही है। इंडिया टीवी के एग्जिट पोल में BJP को 140 से 159 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं कांग्रेस को 70-89 सीटें मिलने की संभावना है। जबकि अन्य के खाते में 0-2 सीटें जा सकती हैं।

मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?
यूपी: आजाद समाज पार्टी के महासचिव की जमीनी विवाद में चाचा ने गोली मारकर की थी हत्या!
मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?
मध्य प्रदेश में इंडिया गठबंधन ने रोक लिया होता अखिलेश—कमलनाथ विवाद तो नहीं ​दिखते एक्जिट पोल के ये रुझान!
मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?
राजस्थान चुनाव 2023: चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना और ओपीएस की गारंटी ने रोकी एंटी-इनकंबेंसी!
मध्य प्रदेश: एग्जिट पोल में भाजपा को बहुमत, क्या जीजीपी और बसपा ने बिगाड़ा कांग्रेस का खेल?
उत्तर प्रदेश: नगर पंचायत सभासद सहित तीन पर दलित नाबालिग से गैंगरेप का आरोप, हुए गिरफ्तार

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com