एमपी: अमरवाड़ा सुरक्षित सीट पर भाजपा-कांग्रेस और गोंडवाना पार्टी के बीच होगा त्रिकोणीय मुकाबला!

उप चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी कमलेश शाह का नाता राज परिवार से है, वहीं कांग्रेस ने यहां धीरन शाह जो यहां के धार्मिक स्थल आंचल दरबार के परिवार के सदस्य हैं। इसके अलावा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का भी इस क्षेत्र में अपना खासा प्रभाव है।
एमपी: अमरवाड़ा सुरक्षित सीट पर भाजपा-कांग्रेस और गोंडवाना पार्टी के बीच होगा त्रिकोणीय मुकाबला!

भोपाल। मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के बाद विधानसभा उप चुनाव को लेकर भाजपा-कांग्रेस सहित अन्य क्षेत्रीय दल अपनी ताकत झोंक रहे हैं। छिंदवाड़ा जिले की अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर 10 जुलाई को मतदान होना है। यहां मुकाबला त्रिकोणीय है।

अमरवाड़ा विधानसभा एसटी आरक्षित क्षेत्र के लिए नामांकन वापस लेने की प्रक्रिया के बाद कुल 9 उम्मीदवार मैदान में रह गए हैं। सात उम्मीदवारों ने नामांकन वापस ले लिया है। इस सीट पर भाजपा के कमलेश शाह, कांग्रेस के धीरन शाह और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी (जीजीपी) के प्रत्याशी देव रावेन भिलावी के बीच मुकाबला है।

अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित अमरवाड़ा के विधायक रहे कमलेश शाह ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। और विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके चलते यह सीट निर्वाचन आयोग ने रिक्त घोषित की थी। इसलिए यहां उपचुनाव हो रहा है।

रोचक होगा मुकाबला

पूर्व विधायक और भाजपा के प्रत्याशी कमलेश शाह का नाता राज परिवार से है, वहीं कांग्रेस ने यहां धीरन शाह जो यहां के धार्मिक स्थल आंचल दरबार के परिवार के सदस्य हैं। इसके अलावा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का भी इस क्षेत्र में अपना खासा प्रभाव है। अमरवाड़ा को कांग्रेस का गढ़ माना जाता है। अमरवाड़ा में अब तक हुए चुनाव में भाजपा सिर्फ दो बार ही जीत दर्ज कर सकी है, वहीं कांग्रेस यहां से 11 बार जीती है। यह क्षेत्र पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रभाव वाला रहा है। अभी हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा ने कांग्रेस के नेता कमलनाथ के गढ़ के तौर पर पहचाने जाने वाले छिंदवाड़ा पर जीत दर्ज की। इतना ही नहीं अमरवाड़ा में भी बड़ी बढ़त हासिल की थी।

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र का उपचुनाव राजनीतिक तौर पर काफी अहम है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह क्षेत्र कांग्रेस और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का गढ़ रहा है। इस उपचुनाव की जीत और हार को राजनीतिक तौर पर काफी महत्वपूर्ण माना जाएगा।

राजनीतिक जानकार बतातें हैं, अमरवाड़ा में इस बार का चुनाव रोचक होगा। क्योंकि इस बार गोंडवाना गणतंत्र पार्टी (जीजीपी) यहां एक जुट होकर मैदान में दिख रही है। गोंडवाना पार्टी के सभी नेता अपने प्रत्याशी की जीत के लिए ताकत से लोगों के बीच जा रहे हैं। एक दिन में छोटे-छोटे गाँव में पार्टी जनसंपर्क में उतरी है। यह चुनाव गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के लिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि 2023 में हुए विधानसभा चुनाव में बसपा से हुए गठबंधन के बाद भी एक भी सीट नहीं मिली थी।

भाजपा लगा रही जोर

अमरवाड़ा विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने भी अपनी पूरी ताकत छोंक दी है। अमरवाड़ा में वीडी शर्मा के अलावा प्रदेश के कई सीनियर नेता चुनाव प्रचार में जुटे हैं। सीएम मोहन यादव ने भी यहां कमान संभाल ली है। सीएम मोहन यादव के कार्यकाल का यह पहला उपचुनाव है, जो उन्हें राजनीति में और भी मजबूत कर सकता है।

इधर, कांग्रेस की कमान खुद प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने अपने हाथों में ले रखी है। जीतू पटवारी ने यहां कई जनसभाएं और रैलियां की है। जीतू पटवारी अपनी जनसभा में कमलनाथ के द्वारा किए गए कामों को गिना रहे हैं। वहीं, दलबदल को भी मुद्दा बना रहे हैं, लेकिन खासबात यह है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके बेटे नकुलनाथ अमरवाड़ा सीट के उप चुनाव में एक्टिव नहीं हैं। राजनीतिक विश्लेषक मान रहे छिंदवाड़ा सीट से नकुलनाथ की हार होने के बाद से वह गंभीर नहीं दिख रहे हैं।

एमपी: अमरवाड़ा सुरक्षित सीट पर भाजपा-कांग्रेस और गोंडवाना पार्टी के बीच होगा त्रिकोणीय मुकाबला!
एमपी उप चुनाव: अमरवाड़ा आरक्षित सीट पर कांग्रेस, BJP और GGP के बीच त्रिकोणी मुकाबला
एमपी: अमरवाड़ा सुरक्षित सीट पर भाजपा-कांग्रेस और गोंडवाना पार्टी के बीच होगा त्रिकोणीय मुकाबला!
एमपी उप चुनाव: क्या पूर्व सीएम शिवराज सिंह के बेटे को भाजपा बुधनी सीट से बनाएगी उम्मीदवार?
एमपी: अमरवाड़ा सुरक्षित सीट पर भाजपा-कांग्रेस और गोंडवाना पार्टी के बीच होगा त्रिकोणीय मुकाबला!
MP बरोदिया नौनागिर दलित हत्याकांड: पुलिस ने मृतका के भाई का मोबाइल जब्त किया, पीड़ित ने कहा- "सबूत मिटा सकती है पुलिस"

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com