यूपीः "राशन भाजपा से लेते हो वोट किसी और को दोगे"- यह कहकर दलित चौकीदार को पीटा!

तहसीलदार तहसील में थे मौजूद,चौकीदार की तहरीर पर होमगार्डो के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज.

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के अंश.
सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के अंश. तस्वीर-साभार सोशल मीडिया.

बरेली। यूपी के बरेली जिले की नवाबगंज तहसील में जमीन की फर्द निकलवाने पहुंचे एक दलित चौकीदार को तहसील परिसर में तैनात होमगार्डों ने जमीन पर गिराकर पीटा। इस दौरान तहसीलदार तहसील में मौजूद थे। चौकीदार का आरोप है कि दोनों होमगार्डो ने उसे लेकर चुनावी टिप्पणी करते हुए कहा- "मुफ्त में राशन भाजपा से लेते हो और वोट किसी और को दोगे।"

इस बात पर चौकीदार और दोनों होमगार्डों में कहासुनी हो गई। दोनों होमगार्ड ने चौकीदार को जमीन पर पटक कर लात-घूसों और रायफल की बट से पीटा। तहसील परिसर में मौजूद लोगों ने मारपीट का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। चौकीदार की तहरीर पर नवाबगंज पुलिस ने आरोपी होमगार्डों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दरअसल,पूरा मामला बरेली जिले की नवाबगंज तहसील परिसर का है। यह घटना वीरेंद्र धानुक के साथ हुई है। वीरेंद्र धानुक नवाबगंज के बहोरनगला गांव के रहने वाले हैं। वीरेंद्र अनुसूचित जाति के सदस्य हैं और वर्तमान समय में नवाबगंज थाने में चौकीदार हैं। वीरेंद्र ने द मूकनायक को बताया-' मैं कल (मंगलवार) अपनी जमीन की फर्द निकलवाने तहसील गया था।'

वीरेंद्र ने घटना का जिक्र करते हुए बताया-"मैं तहसीदार कार्यालय में पहुंचा तो तहसील में तैनात होमगार्ड वीर बहादुर और रामपाल मुझे देख कर चुनावी तंज कसा और कहा-'सरकार से फ्री का राशन लेते हैं और वोट भी नहीं देते हैं' जब मैंने इसका विरोध किया तो होमगार्ड जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए गाली गलौच करने लगे।'

वीरेंद्र आगे बताते हैं-"जब मैंने दोनों का विरोध किया तो दोनों होमगार्डों ने मेरे साथ हाथापाई शुरू कर दी। मैंने खुद को बचाने की कोशिश की। वीर बहादुर ने मुझे धकेल कर नीचे गिरा दिया और रामपाल ने मेरे सिर पर जूता रखकर सिर को कुचलने लगे। दोनों होमगार्ड ने मुझे तहसील परिसर में ही जमीन पर पटक कर लात घूसों और रायफल की बटों से पीटा और घायल कर दिया।'

लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया

जब यह घटना हो रही थी तब तहसील परिसर में मौजदू लोगों ने घटना का वीडियो बना लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी डाल दिया। देखते ही देखते यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो देखकर पुलिस के आला-अधिकारियों में हड़कंप मच गया। चौकीदार की तहरीर पर दोनों होमगार्ड के खिलाफ थाना नवाबगंज में मुकदमा दर्ज किया गया है। चौकीदार ने सीएम को एक शिकायती पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की है।

इस मामले में नवाबगंज के कोतवाल राजकुमार शर्मा ने द मूकनायक को बताया-'मामला मेरे संज्ञान में आया है। चौकीदार की तहरीर पर दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा लिखा गया है। मामले की जांच सीओ साहब कर रहे हैं। वहीं इस मामले में तहसीलदार रजनीश सक्सेना ने द मूकनायक को बताया -'घटना की जानकारी मिली है। इस मामले में जांच कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।'

बीएसपी के पोलिंग एजेंट की हत्या

हरदोई में चुनावी विवाद में मतदान समाप्त होने के बाद बीएसपी के पोलिंग एजेंट पर हमला बोल दिया गया, बचाने आई उसकी पत्नी और बच्चों को भी दबंगों ने पीट दिया। घटना के बाद पीड़ित की इलाज के दौरान मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक, गनीपुर गांव निवासी यदुनंदन (42) बसपा का पोलिंग एजेंट बना हुआ था। यहीं पर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सूपिन शुक्ला और उनके साथियों के साथ दिन में वोटिंग को लेकर कुछ छींटाकशी के बाद तनातनी हुई थी।

आरोप है कि शाम को मतदान समाप्त होने के बाद मतदान केंद्र से यदुनंदन बाहर निकला। इसके बाद रास्ते में पहले से घात लगाए सूपिन शुक्ला और उसके साथियों ने उसे पकड़ लिया। फिर बेरहमी से लाठी डंडों से पीट-पीटकर मरणासन्न कर दिया। चीख पुकार सुनकर बचाने गई पत्नी और बच्चों को भी पीटा।

आरोपी यदुनंदन को मृत समझकर भाग गए। इस मामले में एएसपी नृपेंद्र कुमार ने द मूकनायक को बताया रघुनंदन और सुपिन शुक्ला के बीच वाद विवाद के बाद मारपीट की घटना हुई थी। जिसके बाद घायल को सीएचसी में भर्ती कराया गया, बाद में लखनऊ रेफर कर दिया गया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस मामला दर्ज कर अग्रिम विधिक कार्रवाई में जुटी हुई है।


सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के अंश.
उत्तर प्रदेश: प्रिंसिपल ने दलित बच्ची और उसकी मां को जातिसूचक शब्द कहकर भगाया, एडमिशन देने से किया मना!

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com