यूपीः बौद्ध कथा पांडाल में घुसकर अम्बेडकर का पोस्टर फाड़ा और तोड़फोड़ की, क्रास केस दर्ज

द मूकनायक को शाहपुर मुगल गांव निवासी अनिल कुमार ने बताया-"गांव में पांच से आठ जून के बीच बौद्ध कथा का आयोजन किया गया था। कथा का समापन 9 जून को होना था। जब हम इस कथा का आयोजन करने वाले थे,तब से ही गांव के ब्राह्मण मिलकर इसका विरोध कर रहे थे।
बौद्ध कथा के दौरान फाड़े गए पोस्टर.
बौद्ध कथा के दौरान फाड़े गए पोस्टर. तस्वीर- द मूकनायक

लखनऊ। यूपी के हरदोई जिले के टड़ियावां इलाके में आयोजित बौद्ध कथा के दौरान हंगामा हो गया। इस दौरान सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में दलित युवक की पिटाई की गई। आरोप है कि इस दौरान भीम राव अम्बेडकर की तस्वीर भी फाड़ दी गई। इस मामले में दलित समाज के छह लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है।

दरअसल, पूरा मामला हरदोई जिले के शाहपुर मुगल का है। इस गांव निवासी अनिल कुमार ने द मूकनायक को बताया-"गांव में पांच से आठ जून के बीच बौद्ध कथा का आयोजन किया गया था। कथा का समापन 9 जून को होना था। जब हम इस कथा का आयोजन करने वाले थे,तब से ही गांव के ब्राह्मण मिलकर इसका विरोध कर रहे थे। बौद्ध कथा के समापन के एक दिन पहले सभी ब्राह्मण अचानक उग्र हो गए।"

बौद्ध कथा के दौरान मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.
बौद्ध कथा के दौरान मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ. तस्वीर- द मूकनायक

अनिल ने बताया-"क्षत्रिय और ब्राह्मण समाज के लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। आरोप है कि उन लोगों ने टेंट में आकर तोड़फोड़ शुरू कर दी। बौद्ध कथा सुन रहे लोगों को भगाना शुरू कर दिया। जब लोगों ने इसक विरोध किया तो लोगों की लाठी-डंडे से पिटाई की गई। इस दौरान मौके पर पुलिसकर्मी भी मौजूद थे। उन्होंने कोई भी बीच बचाव नहीं किया।"

इस मामले में भीम आर्मी के पदाधिकारी कथा सुनने गए ककरहा निवासी नन्हेलाल के साथ थाने आ गए। पूरे मामले पर सीओ हरियावां संतोष कुमार सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों को शांत कर दिया गया था। कुल छह लोगों को चोटें आई थीं। सभी का मेडिकल हुआ है। पुलिस मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है।

भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

इस मामले को लेकर टड़ियावां थाना क्षेत्र के गांव पुरवा देवरिया स्थित अम्बेडकर पार्क में भीम आर्मी के पदाधिकारियों के साथ दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने धरना प्रदर्शन किया। क्षेत्राधिकारी हरियावां से अपनी तीन मांगें रखी, जिसमें डॉ. भीमराव अम्बेडकर एवं तथागत गौतम बुद्ध की फोटो फाड़ने के आरोप से संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज करने एवं पीड़ितों पर दर्ज मुकदमा दर्ज वापस लेने, तमंचे से हमला करने के संबंध में धारा बढाए जाने की मांग की है। इस धरना प्रदर्शन में अरविंद कुमार, रजनीकांत, अर्पित गौतम, सोबरन लाल समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी का आरोप

वहीं इस मामले को लेकर दूसरे पक्ष के लोगों का कहना है कि बुद्ध कथा कार्यक्रम के दौरान हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी की जा रही थी, जिसको लेकर कार्यक्रम आयोजक को आगाह भी किया गया था। लेकिन उन लोगों ने पुनः हिंदू देवी-देवताओं के प्रति अभद्र टिप्पणी की, जिसके चलते आक्रोशित लोगों के साथ विवाद हुआ गया।

बौद्ध कथा के दौरान फाड़े गए पोस्टर.
UP: बुद्ध कथा के दौरान तोड़फोड़ व फायरिंग, विधायक पीआरओ सहित 9 पर मुकदमा दर्ज

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com