झारखंड: दो दलित बच्चियों का अपहरण कर गैंगरेप, पुलिस ने किया रेस्क्यू

लातेहार जिले के बरवाडीह थाना क्षेत्र का मामला.
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी

झारखंड के लातेहार जिले में पुलिस ने दो दलित नाबालिग लड़कियों का अपहरण कर गैंगरेप की घटना सप्ताह भर से अंजाम दे रहे चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लड़कियों को रेस्क्यू किया है। इस मामले में अन्य आरोपियों के शामिल होने की जानकारी के बाद पुलिस जांच में जुटी है।

जानिए क्या है पूरा मामला?

झारखंड के लातेहार जिले के बरवाडीह थाना क्षेत्र की रहने वाली दो दलित बच्चियां अपने घर से गायब हो गईं थीं। इस संबंध में नाबालिग बच्चियों के परिजनों ने बरवाडीह थाना में मामला दर्ज कराया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए लातेहार एसपी अंजनी अंजन ने एक एसआईटी का गठन कर पूरे मामले की छानबीन शुरू करवाई। छानबीन के क्रम में पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि गढ़वा के कुछ अपराधियों ने बच्चियों को अगवा किया है। इस सूचना के बाद पुलिस की टीम दल बल के साथ गढ़वा पहुंची और चिन्हित स्थान पर छापेमारी की। इस दौरान पुलिस ने घटनास्थल से 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं दोनों बच्चियों को भी मुक्त करा लिया।

जानकारी के मुताबिक पुलिस के द्वारा बरामद दोनों बच्चियों के साथ अपराधियों ने कई बार दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था। पीड़ित बच्चियों ने पुलिस को बताया कि अपराधियों के द्वारा अपहरण के बाद उन्हें एक घर में रखा गया था। जहां कई लोग आते थे। बच्चियों ने बताया कि उनके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया।

इधर, इस संबंध में जानकारी देते हुए एसडीपीओ दिलू लोहरा ने बताया कि दोनों बच्चियों के परिजनों के द्वारा जब अपहरण का मामला दर्ज कराया गया था। एसपी के निर्देश पर पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर रही थी। उन्होंने बताया कि इस कांड में कई अन्य अभियुक्त भी शामिल हैं। जिनकी पहचान कर उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस आगे की कार्य योजना बना रही है।

एसडीपीओ ने द मूकनायक प्रतिनिधि को बताया, "गिरफ्तार आरोपियों में अजय केसरी, ऋतिक नारंग, आशीष कुमार और कुणाल कुमार शामिल हैं। सभी गढ़वा के रहने वाले हैं।एसडीपीओ ने बताया कि इस मामले में मास्टरमाइंड अजय केसरी है। पुलिस इसके पुराने रिकॉर्ड को भी खंगाल रही है। छापेमारी में एसडीपीओ दिलू लोहरा, थाना प्रभारी श्रीनिवास कुमार, सब इंस्पेक्टर राहुल कुमार, महिला पुलिस पदाधिकारी समेत अन्य पुलिसकर्मियों की भूमिका महत्वपूर्ण रही।"

यह भी पढ़ें-
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी
मध्यप्रदेश: बारात में 'जय भीम' गाना बजाने पर मारपीट और पथराव, क्रॉस एफआईआर दर्ज
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी
राजस्थान: दलित परिवार को नलकूप से पानी लेने की मनाही! 
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी
मध्य प्रदेशः चार आईएएस अफसरों ने बेच दी आदिवासियों की 500 करोड़ की जमीन!

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें व्हाट्सअप पर प्राप्त करने के लिए आप हमारे व्हाट्सअप ग्रुप से भी जुड़ सकते हैं। व्हाट्सअप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
logo
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com