दलित विधवा कर्मचारी से सरकारी कार्यालय भवन में बलात्कार
दलित विधवा कर्मचारी से सरकारी कार्यालय भवन में बलात्कार

राजस्थान: ऑफिस भी सुरक्षित नहीं, दलित विधवा कर्मचारी से सरकारी कार्यालय भवन में बलात्कार!

राजस्थान के धौलपुर जिले का मामला, आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज। आरोपित ने दी महिला व उसके पुत्र को जान से मारने की धमकी। पुलिस ने मेडिकल करा दर्ज कराए महिला के बयान।

जयपुर। जिले के एक सरकारी संस्थान में कार्यरत दलित विधवा महिला से बलात्कार का मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि, महिला सरकारी संस्थान में नौकरी करती है। महिला ने शिकायत दी है कि गत सोमवार को सुबह करीब 8 बजे वह संस्थान में काम कर रही थी, तभी विनोद ठाकुर नाम का व्यक्ति आया और उसे जबरन दूसरे कमरे में लेकर चला गया। आरोपित ने महिला के साथ दुष्कर्म किया। महिला ने आरोप लगाया कि, आरोपित ने उसे धमकी दी कि घटना के बारे में किसी को बताया तो उसे और उसके बच्चे को जान से मार देगा।

घर जाकर दी जान से मारने की धमकी

महिला की ओर से पुलिस को दी गई रिपोर्ट में बताया कि, आरोपित महिला के घर भी पहुंच गया और धमकी दी कि अगर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई तो वह उसे और उसके पुत्र को जान से मार देगा। महिला ने नामजद आरोपी के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया है।

पुलिस ने महिला का मेडिकल कराया और एससी-एसटी एक्ट तथा दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। महिला का बयान दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। धौलपुर एसपी धर्मेंद्र सिंह ने द मूकनायक से बताया कि, "आरोपी महिला से पहले से परिचित था। पीड़ित की तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए तीन टीमें बनाई गई हैं जो सम्भावित जगहों पर दबिश देकर गिरफ्तारी के प्रयास कर रही हैं।"

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com