बिहार: दलित बस्ती में लगी भयानक आग से 54 घर जल कर राख, जानिए कैसे हुआ हादसा?

सुरसंड चोरौत उत्तरी पंचायत के वार्ड 9 महादलित बस्ती में गुरुवार की दोपहर भीषण आग लग गयी। रामवृक्ष सदा, रामलाल सदा, ग्यानचन सदा, राम ललित सदा, मनोज सदा, शिवलाल सदा, सीताराम सदा, बालचन्द सदा, कुसो देवी, घुरण सदा, रंजीत सदा, सोनेलाल सदा सहित इन मजदूर परिवार का आग में सबकुछ जलकर खाक हो गया।
आग लगने के बाद जलते मकान।
आग लगने के बाद जलते मकान।

बथनाहा। बिहार के सीतामढ़ी जिले के बथनाहा प्रखंड में तेज हवा के कारण अचानक उठी चिंगारी से पंडौल ऊर्फ पंथपाकड़ पंचायत के ब्रह्मपुरी गांव के वार्ड नंबर 8 के चार घर जल गए। स्थानीय ग्रामीण आग पर काबू पाने का असफल प्रयास किया। तब स्थानीय मुखिया प्रतिनिधि हरिकिशोर सिंह कुशवाहा के सूचना पर अग्निशमन वाहन ने आग पर काबू पाया। जानकारी के अनुसार, ब्रह्मपुरी गांव के वार्ड नंबर 8 में गुरुवार की दोपहर 2 बजे के लगभग फरमूद मियां, मो. गनी के घर में आग लगी।

जिसे बुझाने को जब तक लोग एकत्रित हुए, तब तक उसके भाई समिजुल मियां, उसके पड़ोसी रामबली सिंह व रामनाथ ठाकुर के घर तक भी आग लग गई। हालांकि अग्निशमन वाहन ने तत्काल पहुंच कर आग कर काबू पाया। आग की चपेट में आकर मो. गनी की पत्नी नसीबुल खातून झुलस गई। जिसे प्राथमिक उपचार को बथनाहा सीएचसी में भर्ती कराया गया। सूचना के अनुसार मो. गनी के घर में रखे गहने, अनाज अन्य सामान सहित बैंक से निकाले गए 80 हजार रुपये नगदी भी जल गया। वहीं अन्य अग्नि पीड़ितों का भी भारी नुकसान हुआ। वहीं स्थानीय सीओ अमरदीप कुमार ने बताया कि हल्का कर्मचारी से जांच के बाद मुआवजा मिलेगा।

सुरसंड चोरौत उत्तरी पंचायत के वार्ड 9 महादलित बस्ती में गुरुवार की दोपहर भीषण आग लग गयी। इससे बस्ती के 54 परिवारों का आशियाना छीन लिया। उनके सामने रात गुजारने की भी समस्या आ गयी है। रामवृक्ष सदा, रामलाल सदा, ग्यानचन सदा, राम ललित सदा, मनोज सदा, शिवलाल सदा, सीताराम सदा, बालचन्द सदा, कुसो देवी, घुरण सदा, रंजीत सदा, सोनेलाल सदा सहित इन मजदूर परिवार का आग में सबकुछ जलकर खाक हो गया।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की दोपहर करीब 1 बजे अचानक से आग लग गयी। जैसे ही लोगों ने आग की लपटों को आसमान में उठते हुए देखा, भगदड़ मच गयी। लोग चिखते-चिल्लाते हुए झोपड़ी से बाहर भागने लगे। तब तक आग की लपटें एक झोपड़ी से दूसरी तक फैलती चली गयी। 

पछुआ हवा एवं तार के पेड़ में आग लगने से देखते देखते ही बस्ती के सभी फुस के घर के साथ ही ईंट एस्बेस्टस से बने घरों को आग ने अपने आगोश में ले लिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि घटना के दौरान चार सिलिंडर ब्लास्ट कर गया। वहीं आधा दर्जन सिलेंडर क्षतिग्रस्त हो गया।

इस भयंकर आग से भारी तबाही हुई है। परिवारों के घर व संपत्ति तो जले ही कई परिवार के अरमान भी जल गये। आग में सोनेलाल सदा का बाइक च गयी। जबकि रामवृक्ष सदा और सीताराम सदा की पुत्र की शादी की तैयारी को लेकर रखे गये सभी समान जल गये। रामवृक्ष सदा और सीताराम सदा ने कहा कि बड़ी मेहनत से शादी का सामान सब जुटाया था। आग से उनकी संपत्ति के साथ ही शादी का अरमान भी जल गया है। पता नहीं अब शादी कैसे हो पायेगा।

विद्यालय में सामुदायिक किचन चलेगा 

अनुमंडल में बैठक में रहने के कारण सीओ सह आपदा प्रभारी रमेश कुमार, बीडीओ अनीत कुमार, थानाध्यक्ष सुखबिन्द्र नैन देर से पहुंचे। वहीं प्रमुख प्रतिनिधि सुनील राउत व अन्य जनपतिनिधियों के सहयोग से अधिकिारियों ने निकट के सरकारी विद्यालय में पीड़ित परिवारों के रहने की व्यवस्था करायी गयी। साथ ही सभी पीड़ितों के भोजन के लिए सामुदायिक किचन चलाया जायेगा। इससे पीड़ितों को तत्काल भोजन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। वहीं तत्काल स्थानीय प्रशासन द्वारा पोलिथिन, चुरा, मिठ्ठा आदि दिया गया है।

4 दमकल व दो सड़क निर्माण कंपनी की गाड़ी ने तीन घंटे में पाया काबू मौके पर पहुंची अग्निशामक यंत्र के अथक प्रयास के बाद भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका। इस बीच घटनास्थल पर पहुंचे बीडीओ, थानाध्यक्ष, जिला पार्षद, पूर्व प्रमुख ने अपने-अपने स्तर से प्रयास करना शुरु किया। वहीं वरीय पदाधिकारियों को सूचना देते हुए अग्निशामक यंत्र भेजने के लिए कहा। वहीं सड़क निर्माण कंपनी को भी अपनी गाड़ी भेजने का आग्रह किया गया। आग पर काबू पाने के लिए स्थानीय लोगों के साथ ही चार अग्निशामक यंत्र एवं चोरौत-पुपरी पथ निर्माण कर रही एजेंसी की दो गाड़ी को करीब तीन घंटा तक मशक्कत करनी पड़ी।

आग लगने के बाद जलते मकान।
कानपुर: मकान के सामने से गुजरने पर पैर नही छुए तो दलित महिला को बालों से घसीटकर पीटा, घर में लगा दी आग

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com