न्यूज ब्रीफ: लालची पति ने पांच हजार में करवाया पत्नी का गैंगरेप!

सांकेतिक
सांकेतिकफोटो साभार- इंटरनेट

नई दिल्ली। देश भर से महिला उत्पीड़न, बलात्कार की खबरें सामने आई है। द मूकनायक के न्यूज ब्रीफ में पढ़े उत्तर प्रदेश में लालची पति ने पांच हजार में करवाया पत्नी का गैंगरेप, मथुरा में तीन साल की बच्ची से किशोर ने किया बलात्कार, राजस्थान चुनाव में मृत व्यक्ति से अशांति की आशंका।

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में महिला उत्पीड़न का चौकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक लालची पति ने दो युवकों से पांच हजार रुपए लेकर शारीरिक संबंध बनाने के लिए दो युवकों को सौंप दिया। विरोध करने पर आरोपी पति ने महिला के साथ मारपीट की तथा तीन तलाक देने की धमकी भी दी। परेशान पत्नी ने पुलिस अधीक्षक से मदद की गुहार लगाई। इसके बाद पुलिस ने आरोपी पति सहित तीन लोगों के खिलाफ गैंगरेप सहित विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार पीलीभीत के सुनगढ़ी थाना इलाके के एक गांव की महिला ने एसपी को परिवेदना देकर बताया कि वर्ष 2018 में उसकी शादी जहानाबाद थाना क्षेत्र के रहने वाले युवक से हुई थी। पति ट्रक चलाकर परिवार का भरण पोषण करता है। आरोप है कि शादी के बाद से ही उसका पति अप्राकृतिक संबंध बनाकर महिला को परेशान करने लगा था। पीड़िता ने अरोप लगाया कि उसका पति वेश्यावृत्ति कर पांच हजार रुपए प्रतिदिन कमाने का दबाव बना रहा था। 8 अगस्त की रात आरोपी पति अपने साथ दो युवकों को लेकर घर आया और दोनों से ढाई-ढाई हजार रुपए लेकर उसे सौंप दिया। इसके बाद दोनो युवकों ने बारी-बारी से महिला के साथ बलात्कार किया। आरोप है कि पति ने पत्नी के साथ मारपीट की और वेश्यावृत्ति नहीं करने पर तीन तलाक देने की धमकी भी दी। एसपी के आदेश पर सुनगढ़ी थाने में पति समेत तीन लोगों के खिलाफ गैंगरेप व अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। थानाधिकारी संजीव शुक्ला का कहना है कि मामले की जांच कर रहे हैं।

मथुरा में तीन साल की बच्ची से किशोर ने किया बलात्कार

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के फरह थाना इलाके के एक गांव में तीन साल की बच्ची के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है। आरोप पड़ोस में रहने वाले 16 वर्षीय किशोर पर लगा है। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी किशोर को निरुद्ध कर बाल सुधार गृह भेज दिया है। पुलिस ने पीड़ित बच्ची का मेडिकल भी कराया है।

पुलिस के अनुसार घटना बीते शनिवार शाम की है। पीड़ित घर के बाहर खेल रही थी। इस दौरान पड़ोस में रहने वाला 16 वर्षीय किशोर आया और टॉफी का लालच देकर बच्ची को अपने घर ले गया। काफी देकर तक भी बच्ची घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने तलाश शुरू की। बच्ची को तलाश करते हुए परिजन आरोपी किशोर के घर पहुंचे। जहां बच्ची की हालत देख कर दंग रह गए। बच्ची को संभालने के दौरान आरोपी मौका देख कर भागने में कामयाब रहा। हालांकि पुलिस ने पीछा कर आरोपी को निरुद्ध कर लिया।

उधर बच्ची को लेकर परिजन संबंधित पुलिस थाने पहुंचे। जहां आरोपी किशोर के खिलाफ तीन साल की नाबालिग के साथ बलात्कार के आरोप में तहरीर दी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने बच्ची का मेडिकल करवाया है।

राजस्थान चुनाव में मृत व्यक्ति से अशांति की आशंका

राजस्थान चुनाव में अब आत्माओं से भी शांति भंग होने का खतरा नजर आने लगा है। अलवर जिले के बहरोड़ उपखण्ड के पुलिस व प्रशासन ने मिलकर कर एक मृत व्यक्ति के नाम सम्मन जारी कर चुनाव में अशांति फेलाने की शंका जताते हुए 6 नवम्बर को उपखण्डड मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश होने का आदेश दिया है। नोटिस देख कर डेढ़ साल पहले दुनिया से रुखस्त हो चुके विनोद पुत्र कुन्दन लाल अहीर निवासी कांकर छाजा गांव में रह रहे परिजन अचंभित हैं। आपको को बता दें कि चुनावों के समय पुलिस चुनाव में शांति व्यवस्था कायम करने के मकसद से इलाके के बदमाशों को चिह्नित कर उनके खिलाफ धारा 107, 116 (3) में उपखण्ड मजिस्ट्रेट के समक्ष इस्तगासा दायर कर पाबंदी की सिफारिश करती है। पुलिस के इस्तगासे के आधार पर उपखण्ड मजिस्ट्रेट सम्मन भेज कर ऐसे लोगों को एक निर्धारित तिथि को अपने समक्ष उपस्थित होने के आदेश देता है। अलवर जिले के बहरोड़ उपखण्ड में भी ऐसा ही किया गया, लेकिन पुलिस ने बदमाशों की सूची बनाते समय यह भी जांच नहीं की कि यह व्यक्ति है भी या नहीं। थाने में बैठ कर ही मनमानी सूची तैयार कर पाबंदी के लिए इस्तगासा पेश कर दिया। उपखण्ड मजिस्ट्रेट ने भी इस पर गौर नहीं किया। मृतक के परिजन अब वकीलों से कानूनी सलाह ले रहे हैं।

सांकेतिक
संविधान माह विशेष: वह लोग जिन्होंने भारतीय संविधान बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जानिए किसकी क्या भूमिका थी?
सांकेतिक
संविधान माह विशेष: देश का यह विश्वविद्यालय भारतीय संविधान सभा की ऐतिहासिक बहसों को कर रहा है पुनर्जीवित!
सांकेतिक
राजस्थान: दलित की पिटाई करने वाले आरोपी MLA गिर्राज सिंह मलिंगा को BJP से टिकट, पीड़ित 580 दिन से अस्पताल में भर्ती

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com