अब तक की बड़ी खबरेंः दूषित खाना खाने से 25 आदिवासी छात्राएं हुईं बीमार

मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल में गुरुवार को यकायक 25 छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई.
अब तक की बड़ी खबरेंः दूषित खाना खाने से 25 आदिवासी छात्राएं हुईं बीमार
File Photo

नई दिल्ली। राजस्थान के उदयपुर में जनजातीय क्षेत्रीय विकास विभाग के ढीकली स्थित मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल में गुरुवार को यकायक 25 छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई। बताया गया कि दूषित खाना खाने से सिर दर्द, पेट दर्द और दस्त की शिकायत हो गयी, जिन्हें हॉस्पिटल भर्ती करवाया गया। शाम को अधिकांश उपचाररत छात्राओं को घर भेज दिया, जबकि 2 बालिकाएं अब भी भर्ती है।

वार्डन रागिनी शर्मा ने बताया कि गुरुवार को पालक की सब्जी के लिए वेंडर को मना किया था। फिर भी यही सब्जी ले आया। स्टाफ ने भी पालक साफ किया था। हॉस्टल में 350 छात्राएं है। मामला सामने आने के बाद फूड सेफ्टी टीम ने हॉस्टल से खाद्य सामग्री के नमूने लिए हैं। ऐहतियात के तौर पर एक मेडिकल टीम और एम्बुलेंस हॉस्टल में लगाई गई है। इधर, दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक होस्टल के रसोई घर मे सूजी और दाल के स्टॉक में इल्लियां पाई गईं। छात्राओं ने अधिकारियों को बताया कि कई बार खाने को दिए जाने वाले फल भी सड़े गले होते है। परिजनों से वार्डन मिलने भी नहीं देती हैं।

पति के बड़े भाई ने किया बलात्कार

यूपी के अमरोहा जिले के डिडौली कोतवाली इलाके में पति की मौत के बाद विधवा को परेशान कर रहे जेठ ने उसके साथ बलात्कार किया। एटीएम कार्ड चोरी कर खाते से साढ़े पांच लाख रुपए भी निकाल लिए। डिडौली कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी एक किसान की दस साल पहले मृत्यु हो गई थी।

उसकी पत्नी खेतीबाड़ी कर परिवार का पालन-पोषण करती है। पति के नाम पर मुरादाबाद में एक प्लॉट भी था, जिसे 22 जून को उसने बेचते हुए रकम अपने बैंक खाते में जमा करा दी। आरोप है कि इसी बीच जेठ ने उसके मोबाइल से सिम कार्ड गायब कर दिया। उसी नंबर का दूसरा सिम जारी कराकर अपने पास रख लिया।

महिला के नाम से जारी एटीएम कार्ड भी डाकिया से लेकर रख लिया। पीडि़ता का आरोप है कि जेठ ने उसके खाते से साढ़े पांच लाख रुपए निकाले हैं। बीती दो जुलाई को दुष्कर्म का प्रयास भी किया। सीओ सिटी विजय कुमार राणा ने एसपी के आदेश पर मामले में आरोपी जेठ श्यामवीर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू करने की बात कही।

तिरंगा बिछाकर परोसा गया नाश्ता!

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में तिरंगे का अपमान किए जाने का मामले में विवाद गहरा गया है। तिरंगे के अपमान का फोटो सामने आने के साथ ही इसके खिलाफ आक्रोश भड़क गया। सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद इसके खिलाफ स्थानीय व्यापारियों ने जमकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने वायरल फोटो के आधार पर मदरसा प्रबंध समेत चार लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला दर्ज किया है। राष्ट्रीय ध्वज अपमान निवारण अधिनियम के साथ विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

तिरंगा बिछाकर उसपर नाश्ता परोसते हुए।
तिरंगा बिछाकर उसपर नाश्ता परोसते हुए।Internet

मामला मदरसा गौसिया इस्लामिया जिंतुल उलूम का बताया जा रहा है। होलागढ़ थाना क्षेत्र के दहियांवा इलाके से यह घटना सामने आते ही हड़कंप मच गया। सोशल मीडिया पर एक यूजर ने इस संबंध में तस्वीर पोस्ट की। इससे मुख्यमंत्री से लेकर यूपी पुलिस, डीजीपी और प्रयागराज पुलिस को टैग करते हुए कार्रवाई की मांग की गई। सोशल मीडिया पर तस्वीर आते ही इसे वायरल किया जाने लगा। तस्वीर शेयर होने के बाद इस मामले पर लोगों का गुस्सा भड़क उठा।

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com