ऑरिजन से लेकर भीम गर्जना, यह 20 फिल्में, जिन्होंने डॉ. भीमराव आंबेडकर को रूपहले पर्दे पर किया जीवंत

डॉ. आंबेडकर पर अब तक कुल 12 मुख्यधारा की फिल्में बन चुकी हैं। उनमें से 7 अकेले मराठी में हैं, उसके बाद 3 कन्नड़ में, 1-1 तेलुगु और अंग्रेजी में हैं। इसके अलावा भी 8 फिल्में हैं।
ऑरिजन से लेकर भीम गर्जना, यह 20 फिल्में, जिन्होंने डॉ. भीमराव आंबेडकर को रूपहले पर्दे पर किया जीवंत

नई दिल्ली। बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर पर हाल में बनी फिल्म ऑरिजन चर्चा में है। फिल्म को लेकर इंटरनेट पर तमाम तरीके की प्रतिक्रिया आ रही है, लेकिन क्या आप को मालूम है कि बाबा साहब के जीवन संघर्ष पर अब तक कितनी फिल्में बनी है। इस खबर में हम अपने पाठकों के लिए उन फिल्मों की संक्षिप्त जानकारी लेकर आए हैं।

डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर जिन्हें लोग आदर से डॉ. बाबासाहब आंबेडकर कहते है, उनका जन्म 14 अप्रैल, 1891 को हुआ था और उन्होंने 6 दिसंबर, 1956 को अपनी अंतिम सांस ली। लेकिन उन्हें अक्सर बड़े पर्दे पर जिंदा किया गया है। डॉ. आंबेडकर पर अब तक कुल 12 मुख्यधारा की फिल्में बन चुकी हैं। उनमें से 7 अकेले मराठी में हैं, उसके बाद 3 कन्नड़ में, 1-1 तेलुगु और अंग्रेजी में हैं। इसके अलावा भी 8 फिल्में हैं, जिनमें बाबा साहब की जीवन झांकी को दिखाया गया है।

1- भीम गर्जना

भीम गर्जना: यह 1990 की एक मराठी फिल्म है। यह फिल्म विजय पवार द्वारा निर्देशित और नंदा पवार द्वारा निर्मित है। अभिनेता कृष्णानंद ने फिल्म में बाबासाहब की मुख्य भूमिका निभाई, जबकि अभिनेत्री प्रथम देवी ने रमाबाई आंबेडकर की भूमिका निभाई। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर पर बनी यह पहली फिल्म है। यह एक उत्कृष्ट मराठी फिल्म है, और इसमें बाबासाहब की भूमिका अच्छी तरह से निभाई गई है। ‘भीम गर्जना” का अर्थ ‘भीम की दहाड़’ यानी ‘बाबासाहब आंबेडकर की दहाड़’ है।

2- बालक आंबेडकर

बालक आंबेडकर: यह 1991 की कन्नड़ फिल्म है। इस फिल्म का निर्देशन बसवराज केस्थर ने किया है। यह फिल्म डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के बचपन के जीवन पर आधारित है, जिसमें बाल भीमराव आंबेडकर की भूमिका बाल अभिनेता चिरंजीवी विनय ने निभाई थी।

3- डॉ. आंबेडकर

डॉ. आंबेडकर: यह एक तेलुगु फिल्म है जो 25 सितंबर 1992 को रिलीज हुई थी। यह फिल्म भारत पारेपल्ली द्वारा निर्देशित और डॉ. पद्मावती द्वारा निर्मित है। अभिनेता आकाश खुराना ने बाबासाहब की प्रमुख भूमिका निभाई, जबकि अभिनेत्री नीना गुप्ता ने रमाबाई आंबेडकर की भूमिका निभाई। रोहिणी हट्टंगड़ी ने भी फिल्म में अभिनय किया है। फिल्म को 28 दिनों में शूट किया गया था। इसमें एस.पी. बाल सुब्रमण्यम ने बैकिंग वोकल्स किया है।

4- युगपुरुष डॉ. बाबासाहब आंबेडकर

युगपुरुष डॉ. बाबासाहब आंबेडकर यह 1993 में रिलीज हुई एक मराठी फिल्म है। यह फिल्म माधव लेले द्वारा निर्मित और शशिकांत नलावडे द्वारा निर्देशित थी। फिल्म में डॉ. बाबासाहब आंबेडकर अभिनेता नारायण दुलाके द्वारा निभाया गया था।

अनंत वर्तक, अशोक घरत, अस्मिता घरत, उपेंद्र दाते, चित्रा कोप्पिकर जैसे कलाकारों ने भी फिल्म में अभिनय किया है। इस फिल्म में, शाहीर साबळे, अनिरुद्ध जोशी, राजेंद्र पै. द्वारा ‘खरा तो एकची धर्म जगाला प्रेम अर्पावे‘, ‘जय भीमा, शुभंकरा तुज कोटी कोटी प्रणाम’ जैसे गाने गाए गए हैं। यह बाबासाहेब पर बनी तीसरी और मराठी में बनी दूसरी फिल्म है।

5- डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर- एक अनकहा सत्य

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर- द अनटोल्ड ट्रुथ: यह एक 2000 की अंग्रेजी फिल्म है, जो जब्बार पटेल द्वारा निर्देशित है। इसमें डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की भूमिका अभिनेता मामूट्टी ने निभाई थी, तथा प्रसिद्ध अभिनेत्री सोनाली कुलकर्णी ने रमाबाई आंबेडकर की भूमिका निभाई थी, जबकि मृणाल कुलकर्णी ने बाबासाहब की दूसरी पत्नी सविता आंबेडकर की भूमिका निभाई थी।

डॉ. बाबासाहब आंबेडकर 2000 इस फिल्म को अंग्रेजी, हिंदी, मराठी, तमिल, तेलुगु, पंजाबी, बंगाली, उडि़या, गुजराती के अलावा कई भाषाओं में डब किया गया है। फिल्म ने ‘अंग्रेजी में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म’, ‘सर्वश्रेष्ठ अभिनेता’ (मामूट्टी), ‘सर्वश्रेष्ठ कला निर्देशन’ (नितिन देसाई) यह तीन राष्ट्रीय पुरस्कार जीते हैं। फिल्म में बुद्धं शरणं गच्छामि, कबीर कहे ये जग अंधा, मन लागो मेरा यार, भीमाईच्या वासराचा रामजीच्या लेकराचा जैसे बेहतरीन गाने हैं। इस फिल्म की लागत लगभग 10 करोड़ रुपए थी। हालांकि, गांधी पर बनी फिल्म का सरकारी बजट इससे कई गुना ज्यादा था।

फिल्म की शूटिंग में 100 आंबेडकरवादी विचारक भी शामिल थे। आंबेडकर जयंती दिवस और महापरिनिर्वाण दिवस पर, डॉ. बाबासाहब आंबेडकर फिल्म को महाराष्ट्र में सरकारी टेलीविजन चौनलों पर प्रसारित किया जाता है। हालांकि डॉ. बाबासाहब आम्बेडकर फिल्म को 1998 में प्रमाणित किया गया था, लेकिन इसे कुछ कारणों से 2000 में जारी किया गया था।

6- डॉ. बी. आर. आंबेडकर

डॉ. बी. आर. आंबेडकरः- यह 30 दिसंबर, 2005 को रिलीज हुई एक कन्नड़ भाषा की फिल्म है, जिसका निर्देशन शरणकुमार कब्बूर ने किया है। फिल्म में, डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की भूमिका अभिनेता विष्णुकांत बी.जे. निभाई थी। अभिनेत्री तारा ने बाबासाहब की पहली पत्नी रमाबाई आंबेडकर की भूमिका निभाई, जबकि उनकी दूसरी पत्नी सविता आंबेडकर की भूमिका भव्या ने निभाई।

इस फिल्म ने तीन पुरस्कार जीते हैं, कन्नड़ राज्य फिल्म पुरस्कार (2005-06), सर्वश्रेष्ठ डबिंग अभिनेता (पुरुष), रवींद्रनाथ, और परीक्षकों से विशेष सम्मान पुरस्कार। नंदिता, अभिमान, शंकर शानबाग और गुरुमूर्ति ने फिल्म में गीत गाए, जबकि अभिमान रॉय ने संगीत दिया।

7- पेरियार

पेरियार: यह 2007 की तमिल भाषा की फिल्म है, जो समाज सुधारक और तर्कवादी विचारक पेरियार ई. वी. रामासामी के जीवन पर आधारित है। फिल्म का निर्देशन ज्ञान राजशेकरन ने किया है। इस फिल्म में, डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की भूमिका अभिनेता मोहन रामन ने निभाई थी, जबकि पेरियार की भूमिका प्रसिद्ध अभिनेता सत्यराज ने निभाई थी। यह वही सत्यराज है जिसने बाहुबली फिल्म में प्रसिद्ध किरदार कटप्पा को निभाया था।

पेरियार डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर से बहुत प्रभावित थे, और दोनों कई बार मिल भी चुके हैं। पेरियार ने एक बार अपने अनुयायियों से कहा था, “अगर मैं इस दुनिया में नहीं रहूं, तब आपको किसी को अपना ‘पिता’ मानना चाहिए तो वह है केवल डॉ. बाबासाहब आंबेडकर।”

8- डेबू

डेबू: यह 2010 की मराठी फिल्म है, जिसका निर्देशन नीलेश जलमकर ने किया है। यह फिल्म महाराष्ट्र के प्रसिद्ध संत गाडगे बाबा के जीवन पर आधारित है, और उनकी भूमिका अभिनेता मोहन जोशी ने निभाई थी। इसमें डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के व्यक्तित्व को भी दिखाया गया है। गाडगे बाबा डॉ. बाबासाहब आंबेडकर बहुत प्रभावीत थे, तथा दोनों कई बार मिल चुके हैं।

9- रमाबाई भीमराव आंबेडकर

रमाबाई भिमराव आंबेडकर (रमाई): यह प्रकाश जाधव द्वारा निर्देशित रमाबाई आंबेडकर पर आधारित एक मराठी फिल्म है। यह फिल्म 4 नवंबर 2010 को रिलीज हुई थी। इसमें रमाबाई की मुख्य भूमिका अभिनेत्री निशा परुलेकर ने निभाई है, जबकि डॉ. बाबासाहब आंबेडकर को अभिनेता गणेश जेथे द्वारा निभाया गया था।

इस फिल्म में शकुंतला जाधव, विजय सरतापे, नंदेश उमप, कोरस जैसे गायकों ने गीत गाए हैं। रमाबाई आंबेडकर के जीवन पर बनी यह पहली फिल्म है, इसके अलावा रमाबाई पर दो अन्य फिल्में भी बनाई गई हैं।

10- रमाबाई

रमाबाई: यह वर्ष 2016 में बनी और एम. रंगनाथ द्वारा निर्देशित कन्नड़ भाषा की फिल्म है। रमाबाई आंबेडकर पर आधारित यह दूसरी फिल्म है। इस फिल्म में, डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की भूमिका डॉ. सिद्धराम करणिक ने की और रमाबाई आंबेडकर की भूमिका यागना शेट्टी ने निभाई।

ऑडिटर श्रीनिवास, नागराज, बैंक जनार्दन, सुमति श्री, मायसोर रामानंद ने भी फिल्म में अभिनय किया है। के. कल्याण ने फिल्म को संगीत दिया था। यह फिल्म 14 अप्रैल 2016 को डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के 125 वें जन्मदिन पर रिलीज हुई थी।

11- बोले इंडिया जय भीम

बोले इंडिया जय भीम-बाबु हरदास एल.एन. संघर्षमय गाथा: यह सुबोध नागदेवे द्वारा निर्देशित एक मराठी फिल्म है। यह फिल्म 7 अक्टूबर 2016 को रिलीज हुई है। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के अनुयायी और समाज सुधारक एल.एन. हरदास (के जीवन और कार्य पर आधारित यह फिल्म है।)

इसमें अभिनेता श्याम भीमसरिया ने बाबासाहब की भूमिका निभाई, जबकि अभिनेता अमोल चिव्हने ने हरदास की मुख्य भूमिका निभाई। जय भीम का प्रसिद्ध अभिवादन हरदास द्वारा शुरू किया गया है। फिल्म का निर्माण जितेंद्र खुशालदास दोशी और धनंजय गलानी ने किया है। फिल्म को संगीत दिनेश अर्जुन द्वारा दिया गया था, तथा जावेद अली और बेला शेंडे ने गीत गाए थे।

12- शरणं गच्छामि

“शरणं गच्छामि”: यह प्रेम राज द्वारा निर्देशित 2017 कि एक तेलुगु फिल्म है। यह फिल्म भारतीय संविधान और डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के विचारों पर आधारित है। “आंबेडकर सरणं गच्छामि” फिल्म का एक गीत है, जिसमें डॉ. आंबेडकर के किरदार को भी चित्रित किया गया है। फिल्म में नवीन संजय और तनिष्का तिवारी मुख्य भूमिकाओं में हैं। यह फिल्म हिंदी में उपलब्ध नहीं है, हालाँकि इसे तमिल में डब किया गया है।

13- बाल भीमराव

बाल भीमराव: यह एक मराठी फिल्म है, जो 9 मार्च 2018 को रिलीज हुई है। इस फिल्म का निर्देशन प्रकाश नारायण जाधव ने किया था। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के बचपन के जीवन पर बनी यह दूसरी फिल्म है।

बाल भीमराव की भूमिका बाल कलाकार मनीष कांबळे ने निभाई थी। फिल्म में मोहन जोशी, विक्रम गोखले, किशोरी शहाणे, निशा भगत और प्रेमा किरण भी हैं। शंकर महादेवन और सुरेश वाडकर ने फिल्म में गाने गाए हैं।

14- रमाई

रमाई: यह एक 2019 की मराठी फिल्म है, जो बाळ बरगाले द्वारा निर्देशित है। रमाबाई आंबेडकर पर बनी यह तीसरी फिल्म है। इसके निर्माता प्रा. प्रगति खरात, मनीषा मोटे और चंद्रकांत खरात है। फिल्म में वीणा जामकर रमाबाई की मुख्य भूमिका में हैं, जबकि अभिनेता सागर तळाशीकर बाबासाहब की भूमिका में है।

इस फिल्म में अरुण नलावडे, स्वनिल राजशेखर, प्रफुल्ल सामंत, प्रकाश धोतरे यह कलाकार भी हैं। आनंद शिंदे, नंदेश उमप, साधना सरगम, रवींद्र साठे, और विजय सरतापे ने फिल्म में गीत गाए हैं, जबकि भिमराव धुळबुळू एवं गोपाळ कबनुरक गीतकार थे।

यह फिल्म 12 अप्रैल, 2019 को डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के 128 वें जन्मदिन की पृष्ठभूमि पर रिलीज हुई थी। डॉ. आंबेडकर को लोग प्यार व आदर ‘बाबासाहब’ यानी ‘पिता’ कहते है, उसी प्रकार रमाबाई को लोग रमाई (रमा+आई) यानी ‘माता’ कहते हैं।

15- ऑरिजिन

ऑरिजिन एक 2023 अमेरिकी जीवनी ड्रामा फिल्म है, जिसे एवा डुवर्ने ने लिखा और निर्देशित किया है। यह इसाबेल विल्कर्सन की पुस्तक कास्ट- द ओरिजिन्स ऑफ अवर डिसकंटेंट्स पर आधारित है। इस फिल्म में प्रोफेसर गौरव जे पठानिया डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर की भूमिका निभाई है। ऑरिजिन, डॉ. आंबेडकर पर आधारित पहली हॉलीवुड फिल्म है जो गत 19 जनवरी 2024 को दुनिया भर में रिलीज हुई।

डॉ. आंबेडकर से जुड़ी अन्य फिल्में

16- जोशी की कांबळे

जोशी की कांबळे (जोशी या कांबले) यह शेखर सरतांडेल द्वारा निर्देशित एक 2008 की मराठी फिल्म है। इस फिल्म का नायक एक युवा आंबेडकरवादी संजय कांबले, अमेय वाघ है जिसका एक अनुसूचित जाति (दलित) के बौद्ध परिवार कांबले परिवार, में पालन-पोषण किया जाता है, लेकिन इसके जैविक माता-पिता हिंदू ब्राह्मण जोशी परिवार से होते हैं।

यह फिल्म आरक्षण और जाति व्यवस्था पर भी बात करती है। इस फिल्म में ‘भीमरावांचा जयजयकार‘ (भीमराव की जय जयकार) एक भीमगीत है। साथ ही इस फिल्म में रामदास आठवले की विशेष भूमिका है।

17- शूद्र- द राइजिंग

शूद्र- द राइजिंग यह 2012 की हिंदी फिल्म है, जिसका निर्देशन संजीव जयस्वाल ने किया हैं। हालाँकि यह फिल्म एक शूद्र समुदाय के जीवन के बारे में है, लेकिन शुद्रों के मसीहा के रुप में जाने वाले डॉ. बाबासाहब आंबेडकर को समर्पित यह फिल्म है। फिल्म में ‘जय जय भीम‘ लोकप्रिय भीमगीत भी है।

18- अ जर्नी ऑफ सम्यक बुद्ध

अ जर्नी ऑफ सम्यक बुद्ध: यह प्रवीण दामले द्वारा निर्देशित एक 2013 की हिंदी फिल्म है। यह भगवान बुद्ध के जीवन पर बनी एक उत्कृष्ट फिल्म है, जिसमें बुद्ध का किरदार अभिनेता अभिषेख उराडे ने निभाया है। यह फिल्म बाबासाहब आम्बेडकर की पुस्तक भगवान बुद्ध और उनका धम्म पर आधारित है। यह भी डॉ. आम्बेडकर को समर्पित कि गई फिल्म है।

19- जय भीम

जय भीम एक 2021 तमिल भाषा की फिल्म है, जो टी जे ज्ञानवेल द्वारा निर्देशित और 2 डी एंटरटेनमेंट के तहत ज्योतिका और सूर्या द्वारा निर्मित है। फिल्म में सूर्या, लिजोमोल जोस, के. मणिकंदन, राजिशा विजयन, प्रकाश राज, राव रमेश और अन्य सहायक भूमिकाओं में हैं।

इस फिल्म का नाम “जय भीम” है, जो सामाजिक और आंबेडकरवादी आंदोलन का सबसे महत्वपूर्ण नारा है। फिल्म का नायक चंद्रू डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के विचारों से प्रेरित दिखाया गया है।

1993 में एक सच्ची घटना पर आधारित, जिसमें न्यायमूर्ति के. चंद्रू द्वारा लड़ा गया एक मामला शामिल है, यह सेंगगेनी और राजकन्नू के जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है, जो इरुलर जनजाति के एक जोड़े हैं। राजकन्नू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और बाद में वह थाने से लापता हो गया था। सेंगगेनी अपने पति को न्याय दिलाने के लिए एक वकील चंद्रू की मदद लेती है।

चंद्रू एक बंदी प्रत्यक्षीकरण का मामला दायर करता है और वह राजन मामले को सच्चाई का पता लगाने के लिए आगे जारी रखने के लिए संदर्भित करता है।

20- जयंती

जयंती एक 2021 मराठी भाषा की सामाजिक फिल्म है, जो शैलेश नरवाडे द्वारा निर्देशित और मेलियोरिस्ट फिल्म स्टूडियो द्वारा निर्मित है। इस फिल्म में रुतुराज वानखेड़े, तितिक्षा तावड़े, मिलिंद शिंदे, वीरा साथीदार जैसे कलाकार हैं। फिल्म के हीरो संतोष को डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर के विचारों से प्रेरित दिखाया गया है।

नोट- इसके अलावा भी डॉ. बाबासाहब आंबेडकर पर कई लघु फिल्म व टीवी धारावाहिक बनाए गए हैं।

स्रोत: धम्म भारत, वीकीपीडिया, भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com