झारखंड के किसानों के लिए क्या है खुशखबरी?

मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि वर्तमान में किसानों का 50 हजार रुपए तक का ऋण माफ किया जा रहा है। इसे अब बढ़ाकर 2 लाख रुपये किया जाना है।
मुख्यमंत्री चंपई सोरेन.
मुख्यमंत्री चंपई सोरेन.

झारखंड: मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने गत मंगलवार से कामकाज को गति देने के उद्देश्य से महत्वपूर्ण विभागों की समीक्षा बैठक आरंभ की। इस दौरान विभिन्न विभागों की तरफ से संचालित फ्लैगशिप योजनाओं, नीतियों और कार्यक्रमों की उच्चस्तरीय समीक्षा की गई। इस मौके पर उन्होंने विभिन्न योजनाओं की प्रगति की जानकारी लेने के साथ ही अधिकारियों को कई निर्देश दिए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में वर्तमान में किसानों का 50 हजार रुपए तक का ऋण माफ किया जा रहा है। इसे अब बढ़ाकर 2 लाख रुपये किया जाना है।

समय पर लोन चुकाने वाले किसानों को मिलेगा ब्याज मुक्त लोन

चंपई सोरेन कहा कि ज्यादा से ज्यादा किसानों को केसीसी से आच्छादित करें। समय पर लोन चुकाने वाले किसानों को ब्याज मुक्त लोन मिलेगा।

चम्पई सोरेन ने निर्देश देते हुए कहा कि जून महीने के अंतिम अथवा जुलाई माह के पहले सप्ताह तक बीज का वितरण हर हाल में कर दिया जाए। सभी सरकारी विद्यालयों में शीघ्र प्रारंभ करें जनजातीय भाषा की पढ़ाई राज्य के सभी सरकारी विद्यालयों में जनजातीय भाषा की पढ़ाई शीघ्र प्रारंभ करें। स्थानीय जनजातीय भाषाओं को प्राथमिकता देते हुए स्कूलों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को जनजातीय भाषा की शिक्षा उपलब्ध कराना सुनिश्चित की जाए। जनजातीय भाषा- संताली, हो, कुड़ुख, खड़िया, मुंडारी सहित सभी जनजातीय भाषाओं के विशेषज्ञ शिक्षकों की नियुक्ति शीघ्र करें।

CM चंपई के अन्य निर्देश

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चंपई सोरेन कहा कि भवन विहीन स्वास्थ्य उपकेंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और अन्य स्वास्थ्य केंद्र का भवन निर्माण कार्य किया जाए। सभी स्वास्थ्य केंद्र का भवन निर्माण इस वर्ष नवंबर तक पूरा करें। सभी स्तर के सरकारी अस्पतालों के एक ही भवन में ओपीडी और जांच की सुविधा हो। यहां सभी दवाई भी होनी चाहिए। अस्पताल परिसर में स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाए। डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी अस्पताल में नियमित रूप से रहें। अस्पताल परिसरों में पौधारोपण हो।

एक्टिव हो जाएगा गुरुजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना का पोर्टल

गुरुजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना का पोर्टल 20 जून से एक्टिव हो जाएगा। इस योजना के तहत विद्यार्थियों को 15 लाख रुपए तक का शिक्षा लोन दिया जाएगा। ऐसे में इस योजना का ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थी लाभ ले सकें, इसके लिए इसका प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करें। इसके साथ नौ हजार से ज्यादा विद्यार्थी शिक्षा लोन के लिए आवेदन कर चुके हैं, उन्हें शिक्षा लोन देने की प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरी करें।

झारखंड कर्ज माफी योजना क्या है?

झारखंड सरकार द्वारा एक से एक सरकारी योजनाओं की शुरुआत की गई है। अक्सर जब प्रकृति आपदा और अन्य परेशानी होने के कारण किसानों की फसल खराब हो जाती है तो उन्हें आर्थिक रूप से काफी ज्यादा नुकसान होता है।

नुकसान की भरपाई करने के लिए किसानों को ऋण भी लेना पड़ता है। बहुत से किसान ऐसे होते हैं, जो लोन तो ले लेते हैं, लेकिन उसे चुका नहीं पाते। क्योंकि खेती अच्छी नहीं होती है अगर आपने भी सरकार से कभी ना कभी लोन लिया है तो आपको झारखंड ऋण माफी योजना के अंतर्गत 2 लाख का लाभ मिल रहा है। जिस भी किसान ने लोन ले रखा है, सरकार द्वारा उसका कर्ज माफ किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री चंपई सोरेन.
फॉलोअपः किसानों-मजदूरों की जमीन छीनकर पूंजीपतियों के लिए एयरपोर्ट बना रही है यूपी सरकार- मेधा पाटकर

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com