राजस्थानः "निलम्बन वापसी का लिखित में आर्डर नहीं मिला"-हेमलता बैरवा

सोशल मीडिया पर दलित महिला शिक्षक के निलम्बन वापसी का आदेश हो रहा है वायरल।
दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).
दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).

जयपुर। "निलम्बन वापस लेने का लिखित में कोई भी आर्डर मुझे प्राप्त नहीं हुआ है। हालांकि सोशल मीडिया पर मैंने एक आदेश देखा है, लेकिन यह सही है या गलत। अभी मैं इसकी पुष्टि नहीं कर सकती।" यह कहना है दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा का। महिला शिक्षक के निलम्बन वापस का आर्डर तेजी से सोशल मीडिया साइटस पर वायरल हो रहा है।

द मूकनायक को महिला शिक्षक हेमलता बैरना ने बताया कि अभी तक शिक्षा विभाग से मुझे लिखित या मौखिक आदेश प्राप्त नहीं हुए है, इसलिए मैंने अभी तक विद्यालय भी ज्वाइन नहीं किया है। इस संबंध में सोशल मीडिया पर एक आदेश जरूर देखा है। इस संबंध में अभी कुछ पुख्ता जानकारी नहीं दे सकती हूं।

दरअसल कोटा के पड़ोसी जिले बारां में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस का आयोजन किया गया था। बारां के किशनगंज तहसील के लकड़ाई गांव में स्थित सरकारी विद्यालय में भी गणतंत्र दिवस का आयोजन चल रहा था। इस आयोजन में बच्चे और उनके अभिभावक भी शामिल हुए थे। लेकिन इस दौरान अभिभावक और वहां मौजूद शिक्षिका हेमलता बैरवा में हॉट टॉक हुई और उसका वीडियो भी वायरल हुआ। बाद में जिला शिक्षा अधिकारी ने इसकी जांच के आदेश दिए।

दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).
Exclusive: राजस्थान की दलित शिक्षिका हेमलता बैरवा ने बताया कैसे संविधान सम्मत बात करने पर कर दिया गया निलंबित?

हेमलता बैरवा ने मंच पर कुर्सियों पर रखी बाबा साहब भीमराव अंबेडकर, सावित्री बाई फुले, महात्मा गांधी के चित्रों के बीच रखी सरस्वती माता की फोटो हटा दी थी और उसे नीचे रख दिया था। गांव वालों ने कारण पूछा तो टीचर ने कहा कि सरस्वती ने शिक्षा के लिए कुछ नहीं किया, मैं ये फोटो यहां नहीं लगाउंगी...। इसी बात को लेकर विवाद हुआ। बाद में शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के आदेश पर टीचर को सस्पेंड कर दिया गया था। उनका मुख्यालय बीकानेर किया गया है। एक तरफा कार्रवाई से नाराज महिला शिक्षक ने न्यायालय की शरण ली थी। मामला विचाराधीन है।

दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).
हेमलता बैरवा निलंबन प्रकरण: न्यायालय को जवाब क्यों नहीं दे रहा शिक्षा विभाग?
दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).
राजस्थान: बारां में दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा के निलंबन पर हंगामा.
दलित महिला शिक्षक हेमलता बैरवा (गोले में).
राजस्थानः शिक्षा विभाग को नोटिस, न्यायालय ने पूछा- "शिक्षक हेमलता बैरवा पर क्यों की कार्रवाई?"

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com