उत्तर प्रदेशः जातिगत गालियां और मोहल्ले से भाग जाने की धमकी, दलित विधवा ने दर्ज कराई FIR

हीराकली घटना का जिक्र करते हुए बताती हैं-"मेरे पड़ोस में रहने वाला राम सिंह गंगवार पिछले कई वर्षों से परेशान कर रहा है। हम छोटी जाति के हैं,इसलिए वह चाहता है कि हम घर छोड़कर चले जाये।"
पीड़िता से बातचीत करते भीम आर्मी के मीडिया प्रभारी आकाश बाबू.
पीड़िता से बातचीत करते भीम आर्मी के मीडिया प्रभारी आकाश बाबू.तस्वीर- भीम आर्मी बरेली

बरेली। यूपी के बरेली जिले में दलित महिला के घर मे घुसकर बलात्कार की कोशिश का मामला सामने आया है। महिला का आरोप है कि उसके साथ जबर्दस्ती शारीरिक सम्बन्ध बनाने की कोशिश की गई। जब उसने इसका विरोध किया तो उसके मुंह पर आरोपी ने थूका। फिलहाल पुलिस ने महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पूरा मामला बरेली के बारादरी थाना क्षेत्र का है। घटना सुरेश शर्मा नगर की रहने वाली हीराकली के साथ हुई। हीरकली से द मूकनायक ने सम्पर्क किया। हीराकली घटना का जिक्र करते हुए बताती हैं-'मेरे पड़ोस में रहने वाला राम सिंह गंगवार पिछले कई वर्षों से परेशान कर रहा है। हम छोटी जाति के हैं,इसलिए वह चाहता है कि हम घर छोड़कर चले जाये। इसके लिए वह कई प्रकार से हमें परेशान करने की कोशिश करता है। कभी हमारे घर के सामने पानी फेंक देता है,कभी कूड़ा फेंक देता है। जब इससे भी मन नहीं भरता तो लैट्रिन (मानव मल) फेंक देता है।'

हीराकली कहती हैं-'मेरे पति की 2006 में दुर्घटना में मौत हो गई थी। मेरे दो बेटे और एक बेटी है। मैं मजदूरी करके किसी तरह अपने बच्चों की परवरिश कर रही हूँ। किसी तरह पैसे जोड़कर मैंने घर का निर्माण करवाना शुरू किया। जिसके बाद उसके जुल्म बढ़ते जा रहे हैं। वह चाहता है कि मैं और मेरा परिवार घर बेचकर इस जगह से चले जाएं।"

हीराकली घटना वाले दिन की बात बताते हुए कहती हैं-'उस दिन मैं घर पर थी। वह घर के अंदर घुस आया और मुझे अकेला देखकर मेरे साथ छेड़छाड़ करने लगा। उसने जबर्दस्ती करते हुए रेप करने की कोशिश की। मैं चिल्लाने लगी,इस पर मेरी बेटी ने आवाज सुनी और घर के अंदर से निकल आई। मुझे चिल्लाता देख उसने मेरी बेटी के सामने पिटाई कर दी। जब मैने विरोध किया तो मुझे जातिसूचक शब्द कहते हुए मुझपर थूक दिया। इसके बाद वह मौके से भाग गया।'

मैंने पूरे मामले की शिकायत थाने में की, लेकिन मेरी कोई सुनवाई नहीं हुई। मैं अपनी शिकायत लेकर एसपी कार्यालय गई थी। जिसके बाद मेरा मुकदमा तो लिख लिया गया,लेकिन पुलिस ने आगे कोई ठोस कदम नहीं उठाया। अब वह मुझे लगातार धमका रहा है। इस मामले में पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आईपीसी की धारा-323, 504 सहित एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

भीम आर्मी पहुंची पीड़िता के घर

घटना की जानकारी मिलते ही भीम आर्मी बरेली पीड़िता के घर पहुंच गई। भीम आर्मी के मीडिया प्रभारी आकाश बाबू ने पीड़िता से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि घटना बहुत ही शर्मनाक है। पुलिस को इस घटना पर ठोस कार्रवाई करनी चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है तो भीम आर्मी उचित कदम उठाएगी।

इस मामले में द मूकनायक ने जांच अधिकारी क्षेत्राधिकारी शहर से सम्पर्क किया। क्षेत्राधिकारी शहर बरेली का कहना है- 'चुनाव का समय चल रहा है इस कारण व्यस्तता अधिक है। मेरा मुंशी भी छुट्टी पर गया है, इसलिए इस घटना की जानकारी नहीं है। मामले में जांच करके ठोस कार्रवाई जल्दी ही की जायेगी।'

द मूकनायक की प्रीमियम और चुनिंदा खबरें अब द मूकनायक के न्यूज़ एप्प पर पढ़ें। Google Play Store से न्यूज़ एप्प इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें.

Related Stories

No stories found.
The Mooknayak - आवाज़ आपकी
www.themooknayak.com